धान खरीदी केंद्र में टोकन के लिए भगदड़: पूर्व सीएम रमन सिंह, धरमलाल कौशिक और रामविचार नेताम ने सरकार को घेरा, जानिए किसने क्या कहा…

रायपुर। पिपरछेड़ी में 17 से ज्यादा महिलाओं को भीड़ ने कुचल दिया था. इसके बाद पिपरछेड़ी के सेवा सहकारी समिति में टोकन वितरण कार्य में लापरवाही बरतने पर समिति प्रबंधक को निलंबित कर दिया गया है, लेकिन अब ये मामला सियासी रूप ले लिया है. छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम रमन सिंह समेत कई बीजेपी नेताओं ने भूपेश सरकार पर हमला बोला है.

रमन सिंह ने ट्वीट कर लिखा कि क्या हालात हो गए हैं छत्तीसगढ़ के! अन्नदाता अपनी उपज बेचने के लिए कितना परेशान है कि घर की औरतें तक लाइन में लगी है। रो रहीं हैं, चीख रहीं हैं, घायल हो रही हैं। किसानों, महिलाओं की यह दुर्दशा देखकर हृदय में तकलीफ होती है। इस लचर व्यवस्थाओं के लिए जिम्मेदार @bhupeshbaghel हैं!.

वहीं नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने लिखा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी आपने बोला था कि धान के एक-एक दाना खरीदना आपकी जिम्मेदारी है और बारदाना का ही पता नहीं है. आप धान खरीदी को लेकर पुरी तरह असफल हैं. बालोद में जो हादसा हुआ दुखद है. मैं सभी घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं. #bhupeshbaghel.

वहीं राज्यसभा सांसद रामविचार नेताम ने कहा कि किसान विरोधी मानसिकता वाली सरकार को किसानों का दर्द नहीं दिखता ! चुनावी भाषणों में खुद को किसानों का मसीहा बताने वाली सरकार, तब कहां चली जाती है, जब अन्नदाता अपनी उपज बेचने के लिए परेशान हो रहा है, घर की औरतें तक लाइन में लगी है।

रो रहीं हैं, चीख रहीं हैं, घायल हो रही हैं। किसानों,महिलाओं की यह दुर्दशा देखकर हृदय में तकलीफ होती है। इस लचर व्यवस्थाओं के लिए प्रदेश का किसान आने वाले समय मे करार जवाब देगा। इस दुर्भाग्यपूर्ण घटना में घायल हुए लोगो के जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं.

 

 

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!