सुखबीर बादल ने जनता से किए लोक-लुभावने वादे, बिजली संकट के लिए राज्य सरकार को कोसा

नवजोत सिंह सिद्धू को सुखबीर बादल ने बताया झूठा

अमृतसर। शिरोमणि अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल ने पंजाब के मौजूदा बिजली संकट के लिए प्रदेश सरकार को आड़े हाथों लिया है. सुखबीर ने आरोप लगाया कि कांग्रेस सीएम और मंत्रियों ने कभी विभाग की तरफ ध्यान ही नहीं दिया. सुखबीर बादल ने आरोप लगाया कि प्रदेश की कांग्रेस सरकार ने कभी इस बात पर ध्यान नहीं दिया कि खपत कितनी बढ़ रही है. उन्होंने सिद्धू पर भी आरोप लगाए. बादल ने कहा कि सिद्धू लगातार झूठ बोल रहे हैं कि निजी उत्पादकों के चलते बिजली का संकट खड़ा हुआ. जबकि ये संकट सरकार द्वारा बिजली विभाग पर ध्यान नहीं देने के चलते खड़ा हुआ है.

बढ़ती दूरियां : सीएम चन्नी के बेटे की शादी में नहीं शामिल हुए सिद्धू, विजय इंद्र सिंगला के साथ पहुंचे वैष्णो देवी

 

सुखबीर बादल ने जनता से किए वादे

सुखबीर बादल ने कहा कि अगर पंजाब में अकाली दल की सरकार बनी, तो हर वर्ग को हर महीने 400 यूनिट और 2 महीनों के बिल में 800 यूनिट फ्री बिजली दी जाएगी. उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के लिए कॉलेजों और यूनिवर्सिटी में 25% सीटें रिजर्व रखा जाएगा. बादल ने सरकारी नौकरियों में 50% पद लड़कियों के लिए रिजर्व रखने और महिलाओं को 2 हजार रुपए प्रति महीना पेंशन लगवाने का वादा भी किया.

पंजाब : छठवां थर्मल पावर प्लांट भी बंद, 15 अक्टूबर तक 4 से 6 घंटे तक हो सकती है बिजली कटौती

 

सुखबीर बादल ने तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार केवल दिल्ली के चक्कर लगाने में व्यस्त है और अंतर्कलह के कारण जनता का समय और पैसा बर्बाद कर रही है. जबकि यह समय पंजाब में रहकर काम करने का है. उन्होंने कहा कि सीएम चन्नी को दिल्ली के चक्कर काटने की जगह पंजाब में रहकर काम करने पर जोर देना चाहिए. उन्होंने कहा कि इस समय पंजाब में मिस मैनेजमेंट है. जनता को आने वाले समय में 7-7 घंटे के बिजली कट के लिए तैयार रहना होगा.

5 Army Personnel Killed In Gunfight With Terrorists In J&K’s Poonch

 

कोयले की कमी से यूनिट बंद हुईं

 

कोयले की कमी की वजह से रविवार को पावरकॉम संचालित रोपड़ और लेहरा मुहब्बत के 8 में से 5 और प्राइवेट राजपुरा, तलवंडी साबो और गोइंदवाल साहिब की 7 में से 5 यूनिट ही चल पाईं. इनमें तलवंडी साबो की एक यूनिट को बाद में चला दिया गया. हालांकि अभी भी सभी प्लांट पूरी क्षमता के हिसाब से बिजली उत्पादन नहीं कर रहे हैं. पंजाब को करीब 8,300 मेगावाट की जरूरत है और इसके मुकाबले राज्य से सिर्फ 3,206 मेगावाट ही बिजली मिली. ऐसे में बाहर से महंगी बिजली खरीदनी पड़ रही है.

No Bail For Aryan Khan Today, Next Hearing On Wednesday

 

बता दें कि सुखबीर बादल रविवार को अमृतसर पहुंचे. अपने इस दौरे में वह रामतीर्थ भी गए, छेहरटा साहिब गुरुद्वारा में भी नतमस्तक हुए और छेहरटा स्थित जामा मस्जिद में भी पहुंचे.

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।