Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

रायपुर. सूर्य देव 16 दिसंबर 2021 को सुबह 3 बजकर 28 मिनट पर वृश्‍चिक राशि से निकलकर धनु राशि में गोचर करने वाले हैं. इस राशि में सूर्य देव 14 जनवरी 2022 दोपहर 2 बजकर 29 मिनट तक रहेंगे. सूर्य के धनु में जाने से बुधादित्य योग बनेगा, जो कुछ राशियों के लिए शुभ है, लेकिन 4 राशियों के जीवन में सूर्य देव की चाल में हो रहा परिवर्तन उथल पुथल मचाएगा. इन राशि के जातकों को इस अवधि के दौरान सावधान रहने की सलाह दी गई है.

1. मिथुन : इस राशि के जातकों के लिए सूर्य तीसरे भाव का स्वामी है, जो सप्तम भाव में रहेगा. इस गोचर काल में आप ऊर्जा से भरे रहेंगे, लेकिन कभी-कभी आपका क्रोध आप पर हावी रहेगा. इससे आपके बनते हुए काम प्रभावित हो सकते हैं. आप अपने सेंस ऑफ ह्यूमर से दूसरों को प्रभावित करने में कामयाब होंगे. हालांकि दांपत्य जीवन अच्छा बीतेगा, लेकिन किसी खास व्यक्ति के साथ आपका कुछ वाद-विवाद हो सकता है, जिससे आपको बचने की सलाह दी जाती है.

इसे भी पढ़ें – अगर आप भी जीवन में बढ़ाना चाहते हैं धन का योग, तो करें इस मंत्र का जाप और धन के स्वामी कुबेर की पूजा … 

2. कन्या : कन्या राशि के जातकों के लिए 12वें भाव का स्वामी सूर्य चतुर्थ भाव में रहेगा. इस गोचर के दौरान आप अप्रत्याशित घटनाओं से घिरे रह सकते हैं. आप कभी-कभी हद से ज्यादा भावुक और आसानी से नाराज भी हो सकते हैं. बहुत अधिक मानसिक तनाव ले सकते हैं, जिसके लिए आपको खुद को शांत करने के लिए ध्यान को अपनी जीवनशैली में शामिल करने की सलाह दी जाती है. इस दौरान आपकी मां के साथ आपका वाद-विवाद भी हो सकता है, लेकिन आपको इससे बचने की सलाह दी जाती है.

3. वृश्चिक : वृश्चिक राशि के जातकों के लिए दशम भाव का स्वामी सूर्य द्वितीय भाव में विराजमान रहेगा. आप अपने पेशे से अच्छी आय अर्जित करने में भी सफल होंगे, लेकिन आप कोई गलत रास्ता अपना सकते हैं. इससे आपको बचने की सलाह दी जाती है. हालांकि सरकारी नीतियों से आपको लाभ मिलेगा और आपको पैतृक संपत्ति से भी लाभ मिलने की संभावना है.

इसे भी पढ़ें – ‘महाकाल’ के गर्भगृह में आज से प्रवेश शुरू, भस्मारर्ती में जारी रहेगी पाबंदी, Lalluram.Com पर जानिए नई व्यवस्था से संबंधित सभी जानकारी 

4. मकर : मकर राशि के जातकों के लिए अष्टम भाव का स्वामी सूर्य बारहवें भाव में गोचर करेगा. इस गोचर अवधि के दौरान आपका खर्च आपकी आय से अधिक होगा, क्योंकि आपको अपने स्वास्थ्य पर थोड़ा ज्यादा खर्च करना पड़ सकता है. आप इस समय अपना पैसा दान में देने का भी इरादा कर सकते हैं. इस समय आपका धार्मिक गतिविधियों के प्रति रुझान बढ़ेगा और इस मोर्चे पर भी खुलकर आप अपना पैसा खर्च करेंगे.