असामाजिक तत्वों के विरुद्ध SP सख्त, 216 गुंडा बदमाश और निगरानी क्रिमिनल्स की खोली गई फाइल, अपराधियों पर कसा जा रहा नकेल

कोरबा: पुलिस की छवि को लेकर तरह-तरह की चर्चाएं होती रहती हैं. कहीं पर पुलिस का मानवीय चेहरा तो कहीं पर पुलिस का नकारात्मक स्वरूप सामने आता रहा है, इस सब के बावजूद कोरबा जिले में वर्तमान में पदस्थ पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल ने कोरबा पुलिस का स्वरूप ही बदल दिया है.

कोरबा पुलिस सख्त पुलिसिंग के साथ-साथ सामुदायिक पुलिसिंग क्षेत्र में भी लगातार नए-नए कीर्तिमान स्थापित कर रही है. एक ओर जहां शहर में कानून व्यवस्था को लेकर पुलिस अधीक्षक सख्त कदम उठा रहे हैं. वहीं दूसरी तरफ अमन चैन पसंद जनता के साथ मधुर संबंध बनाने, पुलिस और जनता के बीच बने हुए दूरी को कम करने के लिए नए नए प्रयोग कर सामुदायिक सहभागिता के साथ पुलिसिंग का एक नया उदाहरण प्रस्तुत कर रहे हैं.

पुलिस अधीक्षक कोरबा भोज राम पटेल की पदस्थापना कोरबा जिले में जुलाई 2021 में हुई है. भोज राम पटेल ने कोरबा जिले के पुलिस अधीक्षक का प्रभार लेते ही सभी पुलिस अधिकारी कर्मचारियों का मीटिंग लेकर स्पष्ट कर दिया था कि अब जिले में कानून व्यवस्था के साथ-साथ जन हितैषी कार्य भी होंगे. उन्होंने कहा कि अब आगे से “विश्वास, विकास और सुरक्षा” कोरबा पुलिस का मूल मंत्र होगा. इसी मूलमंत्र के साथ जिले में पुलिसिंग किया जाए.

पुलिस अधीक्षक भोजराम पटेल से प्राप्त निर्देश के अनुपालन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा के नेतृत्व और नगर पुलिस अधीक्षक कोरबा योगेश साहू ,नगर पुलिस अधीक्षक दर्री लितेश सिंह, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस कटघोरा ईश्वर त्रिवेदी , उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय शेर बहादुर के पर्यवेक्षण में जिले के सभी थाना ,चौकी ,पुलिस सहायता केंद्र प्रभारी लगातार मिशन को सफल बनाने हेतु कार्य कर रहे हैं. जहां एक ओर पुलिस आपराधिक तत्वों पर सख्त कार्रवाई कर रही है. वहीं दूसरी ओर सामुदायिक पुलिसिंग के अंतर्गत नए-नए कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं.

भोज राम पटेल के पुलिस अधीक्षक कोरबा के रूप में पदभार ग्रहण करने के पश्चात माह जुलाई 2021 से अब तक अवैध कोयला के 02 प्रकरण में 03 आरोपी को गिरफ्तार कर लगभग 5 टन कोयला की जब्ती की गई है. अवैध डीजल के 23 मामलों में 42 आरोपियों को गिरफ्तार कर लगभग 5 हजार लीटर डीजल कीमत करीब 5 लाख रुपए जब्त किया गया है. अवैध कबाड़ के 4 मामलों में 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर 27 टन से अधिक कबाड़ की जब्ती की गई है.

जुआ अधिनियम के 194 मामलों में 894 आरोपियों को गिरफ्तार कर लगभग 12 लाख 80 हजार रुपए, सट्टा के 59 मामलों में 60 आरोपियों को गिरफ्तार कर करीब 2 लाख रुपए एवम आबकारी अधिनियम के 676 मामलों में 736 आरोपियों को गिरफ्तार कर 2170 लीटर से अधिक अवैध शराब की जब्ती की गई है.

इसी प्रकार असामाजिक गतिविधियों में लिप्त बदमाशों के विरुद्ध लगातार कार्यवाही कर 10 बदमाशों को नए गुंडा लिस्ट में शामिल किया गया है. वहीं जिला दण्डाधिकारी कोरबा से समक्ष 3 बदमाशों के विरुद्ध जिला बदर की कार्रवाई प्रस्तावित की गई है. जिला दंडाधिकारी कोरबा द्वारा एक गुंडा बदमाश तौकीर खान के विरुद्ध जिला बदर का आदेश पारित किया जा चुका है.

सामुदायिक पुलिसिंग के क्षेत्र में लगातार कार्य करते हुए प्रत्येक थाना चौकी में चलित थाना का आयोजन कर आमजन के समस्याओं का मौके पर निराकरण करने का प्रयास किया जा रहा है. वहीं छत्तीसगढ़ शासन के मुख्यमंत्री महोदय के मंशानुरूप जिले में अनुविभाग स्तर पर जनदर्शन का कार्यक्रम आयोजित कर आमजन की समस्याओं के समाधान का प्रयास किया जा रहा है. साथ ही आमजनता को त्वरित सहायता एवम विजिबल हेतु प्रमुख चौक चौराहों पर अस्थायी पुलिस सहायता केंद्र बनाए गए हैं.

भोजराम पटेल द्वारा पूर्व में 7 बदमाशों का गुण्डा फ़ाइल खोला गया था , कल दिनांक 24 -11-21 को 3 अन्य बदमाशों को गुंडा एवम निगरानी सूची में लाया गया है जिनका नाम इस प्रकार है :-

निगरानी बदमाश :-

मोहम्मद साजिद नवाज उर्फ साजिद खान पिता मोहम्मद आबिद नवाब बादशाह निवासी ताला पारा बिलासपुर

गुंडा बदमाश :-

1- बादल सिंह पिता पुरंजन सिंह निवासी पानी टंकी के पास कोतवाली कोरबा
2- सूरज चौहान उर्फ दादू पिता सावन साय निवासी ओमपुर कॉलोनी रजगामार

इसे भी पढे़ं : सुरक्षाकर्मी की काटी जा रही छुट्टियां, विरोध में परिवार के साथ बैठा धरने पर, जानिए क्या है मामला

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।