हत्या खुलासाः प्रेमी ने दोस्तों के साथ मिलकर की थी प्रेमिका के मंगेतर की हत्या, 5 आरोपी गिरफ्तार, एक फरार

बेमेतरा. जिले की पुलिस ने बीते दिनों हुए एक युवक की अंधेकत्ल की गुत्थी को सुलझा लिया है. दरअसल प्रेमी ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर की प्रेमिका की मंगेतर को मौत के घाट उतार दिया था. पुलिस ने मामले में 5 आरोपियों को गिरफ्तार किया है, जबकि एक आरोपी अभी भी फरार चल रहा है. इस आरोपियों में एक निलंबित पुलिस आरक्षक भी शामिल है. मामला थाना खम्हारिया का है. बीते दिनों कवर्धा जिला के सूतियापाट में युवक का अधजला शव बरामद हुआ था.

पुलिस के अनुसार रविवार को प्रार्थी के घर के पास से उसके छोटे भाई चेतन यादव को दो युवक बाइक में पुलिस थाना खम्हरिया में पूछताछ के लिए बुलाया गया है बोलकर अपने साथ ले गए थे. चेतन यादव के परिजनों द्वारा आसपास एवं थाने में पता करने पर नहीं मिलने पर थाने में चेतन यादव का अपहरण किए जाने की रिपोर्ट दर्ज कराई गई. पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए 24 घंटे के अंदर ही इस अंधे कत्ल  गुत्थी को सुलझा लिया.

दरअसल अज्ञात युवक की अधजली लाश मिलने की सूचना पर पुलिस टीम को चेतन यादव के परिजनों के साथ रवाना किया गया. परिजनों ने शव को चेतन यादव का ही शव होना पहचान किया गया. चेतन यादव का विवाह ग्राम की सजातीय लड़की से सगाई होने वाला था. उसके गांव दारगांव थाना सहसपुर लोहारा जिला कबीरधाम साहू उस लड़की से प्रेम करने के कारण उसकी शादी दूसरी जगह नहीं होने दे रहा था.

आरोपी आरक्षक सियाराम और साहू वर्दी पहनकर चेतन यादव को थाना खम्हरिया पुलिस थाना पूछताछ विकास के लिए ले जा रहे हैं बताकर उसे अपने चेतन यादव के घर के सामने से बाइक में बैठाकर ले गया. विजय गंधर्व और पवन निर्मलकर गांव से बाहर मोटर सायकल पर इंतजार कर रहे थे. बाकी साथी जयपाल एवं स्वयं हरीश साहू गांव से 3 किलोमीटर दूर हाडाहुडी मोड पर इंतजार कर रहे थे. चेतन यादव को लेकर आने पर एक साथ तीनों मोटर सायकल में चेतन यादव को सुतियापाठ के जंगल थाना सिंधनपुरी जिला कबीरधाम ले गये. चेतन यादव को शंका होने पर मोटर सायकल से उतरते साथ भागने लगा जिसे सियाराम, विकास, विजय ने दौडाकर पकड़े और जयपाल कौशिक ने अपने घर से लाए लोहे की राड से चेतन यादव के सर में कई प्रहार कर दिया. जिससे वह गिर पड़ा और मर गया. सियाराम ने मोटर सायकल के डिक्की से पेट्रोल का डिब्बा निकालकर चेतन यादव के ऊपर डालकर अपने पास रखे माचिस से आग लगा दिया.

गौरतलब है कि इस जघन्य हत्या के मामले में पुलिस विभाग का एक आरक्षक सियाराम भी शामिल था, जो अपहरण करते समय अपनी पुलिस वर्दी में था और अपने साथी विकास साहू को भी अपनी वर्दी पहना रखा था. पुलिस ने 5 आरोपियों की गिरफ्तार किया है. वहीं एक फरार आरोपी की तलाश की जा रही है.

विज्ञापन

Close Button
Close Button
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।