कांग्रेसियों के इस्तीफे को जिलाध्यक्ष ने बताया बीजेपी और RSS का षड़यंत्र, पूर्व विधायक ने शुक्ल से मांगी सफाई

गरियाबंद। कोपरा में 200 कांग्रेसियों के इस्तीफे पर अब सियासत शुरू हो गयी है. कांग्रेस जिलाध्यक्ष भावसिंह साहू ने एक बयान में इसके पीछे भाजपा और आरएसएस के लोगों का हाथ बताया है. भाजपा ने भी पलटवार करते हुए कांग्रेस पर करारा हमला बोला है.

कोपरा में अचानक कांग्रेसियों के इस्तीफा देने से पार्टी में हड़कंप मचा हुआ है. जिला मुख्यालय गरियाबंद से लेकर राजधानी रायपुर तक राजनीतिक गलियारों में इस्तीफे की चर्चा गर्म है. वहीं कांग्रेस जिलाध्यक्ष भावसिंह साहू ने इस पूरे मामले के पीछे भाजपा और आरएसएस का षड़यंत्र बताकर सियासी पारा ओर बढ़ा दिया है.

इसे भी पढे़ : दिव्यांग बालिका ने पैरों से भरे हुनर के रंग, जीता प्रथम पुरस्कार

जिलाध्यक्ष भावसिंह साहू ने कहा कि कोपरा में जो हुआ और विधायक अमितेष शुक्ल पर जो अनर्गल आरोप लगाए गए उसके पीछे उन्हें भाजपा या आरएसएस का षड़यंत्र नजर आ रहा है. मीडिया से बात करने के दौरान वे भावुक हो गए और उन्होंने कहा कि कोपरा के कांग्रेसी कभी ऐसा नही कर सकते उन्हें शंका है कि कार्यकर्ता भाजपा या आरएसएस के दबाव में है. हालांकि उन्होंने पूरे मामले को मिल बैठकर सुलझाने का भरोसा दिलाया है.

इसे भी पढे़ : आईपीएल में सट्टा खिला रहे युवक को पुलिस ने किया गिरफ्तार, मोबाइल फोन, सट्टा-पट्टी और नगद बरामद

वही भाजपा ने इस मामले में कांग्रेस पर करारा हमला बोला है. भाजपा नेता एवं राजिम के पूर्व विधायक संतोष उपाध्याय ने कांग्रेस जिलाध्यक्ष भावसिंह साहू को अपरिपक्व बताते हुए उन्हें विधायक से स्थिति स्पष्ट करवाने की सलाह दी है. उपाध्याय ने कहा कि कांग्रेस अपनी गलतियों के कारण जब भी परेशानी में आती है, तो उसका आरोप भाजपा पर मढ़ने लगती है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस शायद आरएसएस के बारे में सही से नहीं जानती. उन्होंने राजिम विधायक से सेंदर, भैंसतरा और कोपरा में रुकी कार्रवाई पर अपनी सफाई पेश करने की मांग की है.

इसे भी पढे़ : नए बस स्टैण्ड के शुरु नहीं होने पर बोले महंत राम सुंदर दास – यातायात की असुविधा से जल्द मिले छुटकारा

मिली जानकारी ने अनुसार कांग्रेस ने अपने रूठे पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओ को मनाने की प्रक्रिया शुरू कर दी है. प्रदेश संगठन पदाधिकारी पल-पल की खबर ले रहे हैं. जिला स्तरीय पदाधिकारी भी नाराज कार्यकर्ताओ के सम्पर्क में है और उन्हें मनाने में जुटे है. लेकिन नाराज कार्यकर्ता सरपंच पर कार्रवाई की मांग पर अड़े हुए हैं.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।