Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

हेमंत शर्मा, इंदौर। पुलिस ने रकम डबल करने का झांसा देकर धोखाधड़ी कर लोगों से ठगी करने वाले अंतरराज्यीय गिरोह का पर्दाफाश कर गिरोह के 7 सदस्यों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से 4 हजार के असली नोट तथा 3 हजार के नकली नोट कुल 7 हजार रुपए व नोट बनाने के उपकरण और एक वाहन जब्त किया है। अब पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है कि अब कितने लोगों को ठगी का शिकार बना चुके है और इनका नेटवर्क किन किन राज्यों में फैला है।

इंदौर की कनाडिय़ा थाना पुलिस को एक बड़ी सफलता मिली है। दरअसल पुलिस को मुखबीर से सूचना मिली कि कुछ बदमाश लोगों को रुपयों को डबल करने के नाम से एक ही सीरीज के नोट का नंबर मिटाकर और दो नोट एक ही नंबर के बनाकर ग्राहक से असली नोट लेते थे। फिर उस पर बटर पेपर रखकर केमिकल लगाकर कापी के पेज में लपेटकर अपनी जेब में छुपा कर रख लेते थे। दूसरा नोट पहले से अपने पास बनाकर रखे हुए एक ही सीरीज के दो नोट पेपर के रोल को खोलकर केमिकल से साफ करके दो नोट बनाना दिखाकर बेबकूफ बनाकर धोखाधड़ी कर लोगो से रुपये लेकर भाग जाते हैं।

Read More : तारीफ के पुल: उमा भारती ने कहा- मुझे और भारत की हर स्त्री को पीएम मोदी लगते हैं पिता की तरह 

सूचना पर थाना कनाडिया एवं एसीपी खजराना की संयुक्त टीम द्वारा कार्यवाही करते हुए मौके से सतीश कुमार, साबेज खान, तिलक गुप्ता, शाबिद खान, अमन शर्मा, इंद्रेश कुशवाह, शशि तिलकर और रुपम जहादे को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने उनके कब्जे से 4 हजार के असली नोट तथा 3 हजार के नकली नोट कुल 7 हजार रुपये एवं घटना में प्रयुक्त सामग्री एवं वाहन जब्त की है। सभी आरोपी अलग अलग शहरों के रहने वाले और गिरोह बनाकर अलग अलग शहरों में इसी प्रकार से लोगो से ठगी कर फरार हो जाते थे। फिलहाल पुलिस आरोपियों से उनके साथी व उसके नेटवर्क के बारे में पूछताछ कर रही है। जानकारी राजेश व्यास एडीसीपी ने दी।

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus

">
Share: