खबर का असर- प्रशासन ने अस्पताल में ढहाया भाजपा नेता का अवैध मकान, बीएमओ ने कहा- शुक्रिया लल्लूराम

प्रदीप गुप्ता, कवर्धा। लल्लूराम डॉट कॉम की खबर एक एक बार फिर बड़ा असर हुआ है. एक भाजपा नेता द्वारा पंडरिया के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में कब्जा कर बनाए गए दो मंजिले मकान पर जिला प्रशासन ने ढहा दिया है. प्रशासन की इस कार्रवाई पर बीएमओ ने लल्लूराम डॉट कॉम का शुक्रिया अदा किया है.

लल्लूराम डॉट कॉम ने 18 जून को भाजपा नेता द्वारा अस्पताल की बाउंड्री वाल तोड़कर वहां दो मंजिला मकान बनाने की खबर प्रमुखता से प्रकाशित की थी. खबर के सामने आने के बाद प्रशासन में हड़कंप मच गया था. खबर प्रकाशित होने के दो दिन बाद जिला प्रशासन की टीम मौके पर पहुंची और अवैध कब्जा कर बनाए गए मकान को जेसीबी से ढहा दिया.

पंडरिया तहसीलदार विनोद बंजारे ने कहा कि सरकारी भूमि पर धर्मेंद्र सिंह ठाकुर ने 73 वर्गफीट जमीन पर कब्जा करने के बाद दो मंजिला मकान बना लिया था और स्थानीय बीएमओ बीएल राज ने शिकायत की थी. जिसके बस मकान को आज जेसीबी से तोड़ दिए हैं. कब्जाधारी ने दुर्ग संभाग कमिश्नर के पास अपील की है लेकिन अभी तक हमारे आस जमीन को लेकर स्टे की कॉपी नही आया है. जिसके कारण से आज अवैध मकान पर कार्रवाई की गई अभी तीन घंटे से मकान को तोड़ रहे है लेकिन कब्जाधारी अभी तक देखने भी नहीं आए हैं.

उधर पंडरिया सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के बीएमओ डॉ बीएल राजा ने इस कार्रवाई के बाद लल्लूराम डॉट कॉम को धन्यवाद कहा है.

यह था मामला

आपको बता दें कि भाजपा नेता धर्मेन्द्र सिंह ठाकुर ने 4 साल पहले पंडरिया सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र की बाउंड्रीवाल को तोड़कर अस्पताल की जमीन पर अवैध कब्जा कर लिया था. प्रदेश में भाजपा की सरकार होने की वजह से नेता के हौसले बुलंद थे. बाद में उसने इस जमीन पर अपना दो मंजिला मकान बना लिया था. प्रदेश में सरकार बदलने के बाद इस साल 2 फरवरी को बीएमओ बीएल राजा ने इसकी शिकायत जिला प्रशासन से की थी लेकिन जिला शिकायत के बाद भी जिला प्रशासन ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की थी.

देखिये वीडियो

[embedyt] https://www.youtube.com/watch?v=jfjCzvcSWUs[/embedyt]

पूरी खबर के लिए इसे भी पढ़ें

EXCLUSIVE – अस्पताल परिसर में अवैध कब्जा करके तान दी दो मंजिला इमारत, भाजपा नेता पर है आरोप …

Advertisement
Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।