स्मृति ईरानी की करीबी रहे पूर्व प्रधान की गोली मारकर हत्या, अमेठी की जीत में था बड़ा योगदान

नई दिल्ली। स्मृति ईरानी के करीबी कार्यकर्ता की अज्ञात बदमाशों ने गोली मार कर हत्या कर दी है. बदमाशों ने घटना को उस वक्त अंजाम दिया जब पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह अपने घर के बाहर सो रहे थे. उन्हें इलाज के लिए लखनऊ के ट्रामा सेंटर ले जाया गया, जहां रास्ते में ही उनकी मौत हो गई. हत्या के बाद पूरे इलाके में तनाव का माहौल है. घटनास्थल पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.

घटना अमेठी में बरौलिया गांव की है, पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह की हत्या की खबर मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और मामला दर्ज कर इसकी जांच में जुट गई है. सुरेंद्र सिंह अमेठी से हाल में लोकसभा चुनाव जीत कर आईं स्मृति ईरानी के काफी करीबी थे. बरौलिया गांव को मनोहर पर्रिकर ने गोद लिया था.

इसे भी पढ़ें- नक्सलियों की नापाक कारतूत, कांग्रेसी कार्यकर्ता की धारदार हथियार से हत्या, बताई ये वजह

पुलिस के मुताबिक बाइक सवार बदमाशों ने सुरेंद्र सिंह फायरिंग कर दी. घायल पूर्व प्रधान को पहले तो इलाज के लिए जिला अस्पताल लाया गया. उनकी गंभीर हालत को देखते हुए डॉक्टरों ने उन्हें लखनऊ ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया. लखनऊ ले जाते वक्त सुरेंद्र सिंह ने दमतोड़ दिया.

इसे भी पढ़ें- क्या कहती हैं आपकी ग्रहदशाएं, क्या करें कि दिन होगा शुभ, जानिए क्या है आज का राशिफल

बता दें कि लोकसभा चुनाव 2019 में सुरेंद्र सिंह ने स्मृति ईरानी के चुनाव प्रचार में बड़ा रोल निभाया था. रिपोर्ट के मुताबिक सुरेंद्र सिंह का प्रभाव कई गांवों में है जिसका फायदा स्मृति ईरानी को चुनाव प्रचार में मिला. इसी वजह से स्मृति को राहुल के खिलाफ इतनी बड़ी जीत मिली.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।