जिन्होंने कभी कारसेवक बन किया था बाबरी मस्जिद का विध्वंस, उन्होंने आज अपना लिया है मुस्लिम धर्म

 

अयोध्या, यूपी। 6 दिसंबर 1992 का वो दिन, जिसे आज तक देश नहीं भूल पाया है. इस दिन बाबरी मस्जिद का हजारों कारसेवकों ने विध्वंस कर दिया था. जिसके बाद देशभर में दंगे फैल गए थे और कई लोगों की जानें चली गईं थीं. आज इस बात को 25 साल पूरे हो चुके हैं. आज तक रामजन्म भूमि-बाबरी मस्जिद स्वामित्व विवाद का कोई फैसला नहीं हो पाया है.

Advertisement
Patakha ban Ad

वहीं हजारों कारसेवकों जिन्होंने बाबरी मस्जिद गिराया था, उनमें से कई ऐसे भी हैं, जिन्हें आज तक उस बात का अफसोस है. हर कारसेवक एक जैसा नहीं सोचता. कुछ इस पर गर्व करते हैं, वहीं कुछ अपनी उस भूल पर पछताते भी हैं.

कारसेवकों ने अपनाया मुस्लिम धर्म

पानीपत के बलबीर सिंह, जो 1992 में शिवसेना के सदस्य थे, उन्होंने इस्लाम धर्म कबूल कर लिया. उन्हें बाबरी मस्जिद विध्वंस में शामिल होने का दुख है. इन्हीं के जैसे हैं योगेंद्र पाल सिंह, जो मस्जिद ढहाने के लिए उस वक्त उसके गुंबद पर चढ़े थे, इन्होंने भी बाद में इस्लाम धर्म कबूल कर लिया और मुसलमान बन गए.

ADVERTISEMENT
cg-samvad-small Ad

मुस्लिम धर्म अपनाने के बाद दोनों ने अपना नाम भी बदल लिया है. बलबीर अब मोहम्मद आमिर बन चुके हैं और योगेंद्र अब मोहम्मद उमर के नाम से जाने जाते हैं. प्रायश्चित के लिए दोनों ने 100 मस्जिदों के निर्माण या मरम्मत की कसम भी खाई है. अब तक दोनों ने 50 मस्जिदों के निर्माण और मरम्‍मत में सहयोग किया है.

गौरतलब है कि  बलबीर बाबरी मस्जिद का गुंबद तोड़ने वाले पहले कारसेवक के तौर पर जाने जाते हैं. जब वे मस्जिद ढहाकर लौटे थे, तो पानीपत में उनका स्वागत हीरो की तरह किया गया था. वे अयोध्‍या से दो ईंटें लेकर आए थे, जो अभी भी शिवसेना कार्यालय में रखी हैं.

जब बलबीर उर्फ मोहम्मद आमिर मुस्लिम धर्मगुरु मौलाना कलीम सिद्दीकी को मारने के लिए देवबंद में थे, तब उनका मन बदल गया. मौलाना की धार्मिक बातें सुनकर बलबीर ने तुरंत इस्लाम अपनाने का फैसला कर लिया. इसके लिए उन्होंने अपना शहर छोड़ दिया. वे पानीपत से आकर हैदराबाद में बस गए. उन्होंने मुस्लिम लड़की से निकाह भी किया. उन्होंने अपना नाम तक बदल लिया और आज वे इस्लाम की शिक्षा देने के लिए स्कूल भी चलाते हैं.

Advertisement
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।