नशे पर लगाम की तैयारी: छत्तीसगढ़ के इस जिले की पुलिस ने नशे के खिलाफ चलाया निजात अभियान, काउंसलिंग कर नशे की छुड़ा रहे लत

कोरिया। कोरिया पुलिस ने शराबियों पर अंकुश लगाने के लिए निजात अभियान की शुरूआत की है. इस अभियान के अंतर्गत जन-जागरूकता के साथ-साथ अवैध नशे के सौदागरों को बड़ी संख्या में गिरफ्तार करने की सख्त कार्रवाई की जा रही है. इस अभियान को विधानसभा अध्यक्ष चरणदास महंत ने हरी झंंडी दिखाई है.

इसे भी पढे़ं : वन्य जीव प्रेमी गिड़गिड़ाते रहे साहब ‘तेंदुए को छोड़ दो’… अब मौत के लिए जिम्मेदार PCCF और DFO को निलंबित करने की उठी मांग

बता दें कि इस अभियान के तहत पिछले दो महीने के अंदर जिले में NDPS एक्ट के तहत 54 प्रकरणों के 74, अवैध शराब के 203 प्रकरणों में 282 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया जा चुका है. पुलिस ने इनके पास नशीले इंजेक्शन, सिरफ, गांजा, अवैध शराब के साथ-साथ 15 नग मोटर साइकिल और 1 कार की जब्ती की है. वहीं जन-जागरूकता के साथ नशे के आदी हो चुके लोगों को नशे से निजात दिलाने कोरिया पुलिस कॉउंसलिंग करवा रही है.

इसे भी पढे़ं : CG BREAKING: सूबेदार, उपनिरीक्षक और प्लाटून कमांडर के 975 पदों पर होगी सीधी भर्ती, जानिए कैसे करें आवेदन ?

कोरिया अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, उप पुलिस अधीक्षक (मुख्या.) समेत जिले के सभी पुलिस अधिकारी नशे से निजात दिलाने के लिए पिछले दो दिनों में नशे के गिरफ्त में फंसे सैकड़ों से ज्यादा लोगों से बात कर उनकी काउंसिलिंग की है. साथ ही नशा न करने और समाज की मुख्य धारा से जुड़ने का संकल्प दिलवाया है. नशे से जूझ रहे लोगों के परिवार से उनकी स्थिति का जायजा लेते हुए इस दलदल से छुटकारा पाने में हर सम्भव सहयोग की उम्मीद भी दी जा रही है.

इसे भी पढे़ं : BREAKING : अरूप कुमार गोस्वामी छग हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश नियुक्त

इस सम्बंध में पुलिस अधीक्षक संतोष सिंह ने कहा कि इस अभियान के तहत कार्रवाई, जन-जागरूकता के साथ-साथ नशे से जूझ रहे लोगों की काउंसलिंग का कार्य कर रहे हैं. यह आगे लगातार जारी रहेगा. आने वाले समय में नशे के आदी लोगों के लिए विशेषज्ञों से काउंसिलिंग कराया जाएगा. व्यसन-मुक्ति कार्यक्रम द्वारा मदद पहुचाने की योजना है.

इसे भी पढे़ं : छत्तीसगढ़: नगरनार प्लांट के निजीकरण के विरोध में युवा कांग्रेस का हल्लाबोल, कहा- केंद्र की तानाशाह सरकार ने छीन ली करोड़ों नौकरियां…

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।