राज्य खेल अलंकरण समारोह शुरु, खेल मंत्री ने कहा- ’15 साल से मुख्यमंत्री खुद अच्छा खेल रहे है’, सीएम बोले- कामनवेल्थ और ओलंपिक में पहुंचने वाले खिलाड़ी को मिलेंगे 2 करोड़ रुपए

रायपुर.  खेल विभाग की ओर से वर्ष 2017-18 का राज्य खेल अलंकरण सम्मान शुरु हो गया है. मेडिकल कॉलेज अटल बिहारी वाजपेयी सभागार में चल रहे इस कार्यक्रम में प्रदेशभर के खिलाड़ियों 95 लाख रुपए की पुरस्कार राशि बांटी जाएगी.

मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह इस मौके पर नेशनल में मेडल जीतने वाले खिलाड़ियों को 38 लाख रुपए और खेल अलंकरण के लिए चुने गए खिलाड़ियों को 47 लाख रुपए की पुरस्कार राशि देकर सम्मानित करेंगे. पुरस्कार वितरण समारोह में शहीद राजीव पांडेय पुरस्कार, शहीद कौशल यादव पुरस्कार, वीर हनुमान सिंह पुरस्कार, शहीद पंकज विक्रम सम्मान, शहीद विनोद चौबे सम्मान और मुख्यमंत्री ट्रॉफी पुरस्कार दिए जाएंगे. कार्यक्रम के दौरान .विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल,खेल मंत्री भैयालाल राजवाड़े.मंत्री राजेश मूणत, विधायक सत्यनारायण शर्मा भी मंच पर मौजूद है.

इस दौरान खेल अलंकरण समारोह के मंच पर मंत्री भैयालाल राजवाड़े ने कहा- 15 साल से मुख्यमंत्री खुद अच्छा खेल रहे है. जिन्होंने पदक जीता उन्हें मैं बधाई देता हूं और जिन्हें पदक नहीं मिला है वो फिर मेहनत के साथ तैयारी करें, उनका मेहनत सफल होगा. इस दौरान विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल ने कहा कि  अटल जी ने छत्तीसगढ़ बनाकर राज्य के खिलाड़ियों को नया मौका दिया. ये हाल भी उन्हीं के नाम से है. 2004 से पहले ऐसा पुरस्कार नहीं मिलता था. जब से डॉ रमन सिंह मुख्यमंत्री बने है तब से पुरस्कर मिल रहा है.

सीएम बोले- ये देश का सबने अनूठा और अकेला अायोजन है

खेल अलंकरण समारोह में पहुंचे मुख्यमंत्री डॉ रमन सिंह ने कहा कि ये देश का अनूठा और अकेला आयोजन है जिसमें उन खिलाड़ियों को जो आर्थिक संसाधन से पिछड़ जाते थे उन्हें आर्थिक मदद के साथ साथ राज्य सरकार ने शासकीय नौकरी पर भी 2% का अनुदान खिलाड़ियों के लिये रखा है, नए छत्तीसगढ़ के निर्माण में भविष्य में होने वाले नेशनल गेम्स की भूमिका तैयार कर ब्लाक लेवल तक कैसे इसको ला सकते है उसके लिए कार्य जारी है. उन्होंने कहा कि ये बहुत बड़ी बात है अगर हमारे खिलाड़ी कामनवेल्थ और ओलंपिक में पहुंच जाते है तो यदि ऐसा हुआ तो 2 करोड़ रुपये की राशि उस खिलाड़ी को हम देंगें. आज इस बात की खुशी है कि खिलाड़ियों के साथ-साथ जिन्हें आज हम सम्मानित करने जा रहे है वो लोग अलग-अलग क्षेत्र में अपना नाम ऊंचा किया है. आज ऐसे लोगो का सम्मान होगा जो खेल के क्षेत्र खिलाड़ियों को प्रोत्साहित कर आगे बढाया है. उन्होंने कहा कि एक विषय मेरे सामने खेल संघ के द्वारा लाया गया है कि खिलाड़ियों के अनुदान नियम में कुछ परिवर्तन किया जाए, दैनिक भत्ता जो केवल 100 रुपये मिलता था आज उसे बढ़ा कर हम 350 रूपये करने का फैसला किया है.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।