Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

आशुतोष तिवारी,रीवा। मध्यप्रदेश के रीवा जिले में लोकायुक्त की टीम ने रिश्वतखोर अधिकारी के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है. भ्रष्टाचारी जवा जनपद सीईओ अरुण कुमार भारद्वाज को दस हजार रुपए की राशि लेते ट्रैप किया है. जबकि दलाल फरार हो गया है. बिल पास करने के एवज में रिश्वत की डिमांड की गई थी.

MP में 6 लोगों की मौत: उज्जैन में मां-बेटे की हत्या, पति मिला बेहोश, पन्ना में लकड़बग्घे के हमले में 3 लोगों की मौत, कटनी में बोगी के बीच में फंसने से युवक की मौत

दरअसल पूरा मामला रीवा जिले के जवा जनपद पंचायत का है, जहां आज लोकायुक्त की टीम ने कार्रवाई की है. सीईओ अरुण कुमार भारद्वाज को 10 हजार रुपए रिश्वत लेते पकड़ा गया है. रौली सरपंच रेवा प्रसाद द्विवेदी ने मनरेगा योजना के तहत ग्राम पंचायत में कार्य किया गया था. बिल पास कराने के लिए जवा सीईओ के पास बार-बार चक्कर लगा रहे थे. लेकिन जनपद सीईओ के सक्रिय दलाल की वजह से कार्य नहीं हो पा रहा था.


देखें VIDEO: भिक्षा मांगने वाले साधु की पिटाई कर काट दी गई जटा, वीडियो वायरल होने के बाद एसपी ने लिया संज्ञान  

ग्राम पंचायत के कार्यों का बिल पास करने के एवज में जवा जनपद सीईओ द्वारा 15 हजार रुपए की रिश्वत की मांग की गई. जिसकी शिकायत रेवा प्रसाद द्विवेदी रौली सरपंच ने लोकयुक्त में किया था. जिसे आज शासकीय आवास में 10 हजार रूपये की रिश्वत लेते हुए लोकायुक्त ने रंगे हाथों पकड़ा है.

4 दिन से टावर पर चढ़े हैं किसान: मुआवजे की मांग पर अड़े 11 किसान चौथे दिन भी आंधी तूफान के बीच टावर से नहीं उतरे, 37 दिन से जारी है अनशन

इससे पहले भी भ्रष्टाचारी आरोपी जवा जनपद सीईओ अरुण कुमार भारद्वाज 5 हजार रूपये ले चुका था. आज दोबारा दूसरी किश्त ले रहा था. लेकिन बाकी राशि लेते लोकयुक्त की 15 सदस्यीय टीम ने धर दबोचा. आरोपी सीईओ के खिलाफ भष्टाचार अधिनियम के तहत कार्रवाई की गई है.

Read more- Health Ministry Deploys an Expert Team to Kerala to Take Stock of Zika Virus