MP में कोरोना की तीसरी लहर आने की आशंका, CM ने कलेक्टर्स को स्वास्थ्य व्यवस्थाएं दुरुस्त करने के दिए निर्देश

राकेश चतुर्वेदी, भोपाल। मध्य प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर धीमी पड़ गई है. जिसको लेकर प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान ने आज शुक्रवार को कोरोना की समीक्षा बैठक ली. जहां सीएम ने तीसरी लहर के लिहाज से स्वास्थ्य व्यवस्थाएं दुरुस्त करने के निर्देश दिए. उन्होंने कहा कि सभी कलेक्टर अपने-अपने जिलों में तीसरी लहर की तैयारियां करें. साथ ही आईसीयू वार्ड, सिटीस्केन और अस्पतालों में विस्तर बढ़ाने के साथ ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना करें.

इसे भी पढे़ं : MP में फेसबुक लाइव कर पत्रकार ने लगाई फांसी, पत्नी की बेवफाई से परेशान था युवक

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोरोना की दूसरी लहर नियंत्रित हुई है, लेकि तीसरी लहर की संभावनाएं अभी समाप्त नहीं हुई हैं. केरल एवं महाराष्ट्र राज्यों में अभी भी बड़ी संख्या में कोरोना के प्रकरण आ रहे हैं. ऐसेम में पूरी सतर्कता एवं सावधानियां रखें. उन्होंने कहा कि तीसरी लहर संबंधी तैयारियां पूरी मुस्तैदी से करें. कार्य में थोड़ी भी लापरवाही नहीं होनी चाहिए.

कलेक्टर सुनिश्चित करें समय पर तैयारियां

मुख्यमंत्री चौहान ने निर्देश दिए कि सभी कलेक्टर अपने-अपने जिलों में तीसरी लहर की तैयारियों में अस्पतालों में बिस्तर बढ़ाने, ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना, आईसीयू वार्डस, सिटीस्केन और अन्य जांच व्यवस्थाएं, आवश्यक दवाओं की व्यवस्था, विशेषज्ञ चिकित्सकों, पैरामेडिकल स्टाफ, तकनीशियन आदि की व्यवस्था समय पर सुनिश्चित करें.

इसे भी पढे़ं : BJP नेता मनोज तिवारी पहुंचे उज्जैन, बाबा महाकाल के किए दर्शन

पन्ना, सीधी, अलीराजपुर ध्यान दें

समीक्षा में पाया गया कि पन्ना, सीधी एवं अलीराजपुर जिलों में तुलनात्मक रूप से वैक्सीनेशन का कार्य धीमा है. इन सभी जिलों में सीएम शिवराज सिंह चौहान ने वैक्सीनेशन की गति बढ़ाने के निर्देश दिए हैं. वैक्सीनेशन के लिए लोगों को जागरूक किया जाए.

121 एक्टिव एवं 10 नए प्रकरण

कोरोना की समीक्षा में बताया गया कि प्रदेश में कोरोना के 121 एक्टिव प्रकरण हैं. वहीं 10 नए प्रकरण आए हैं. प्रदेश में लगभग 70 हजार टेस्ट रोज हो रहे हैं. पॉजिटिविटी रेट 0.01 प्रतिशत है. कोरोना संक्रमण में प्रदेश देश में 30वें स्थान पर है.

इसे भी पढे़ं : संस्कारधानी के बेटी ने फिर बढ़ाया देश का मान, किया ऐसा काम कि दर्ज हुआ एशिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में नाम

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।