इस क्रिकेटर ने भारत की ओर से टेस्ट क्रिकेट में लगाया था पहला दोहरा शतक, आज भी रकॉर्ड बुक में नाम है दर्ज

स्पोर्ट्स डेस्क- क्रिकेट में रिकॉर्ड बनते और बिगड़ते रहते हैं, लेकिन जो रिकॉर्ड बन जाते हैं वो इतिहास के पन्नों पर दर्ज हो जाते हैं और अक्सर समय समय पर उन्हें याद किया जाता है। आज एक ऐसे ही पूर्व क्रिकेटर का जन्मदिन है जिन्होंने अपने समय में कई ऐसे रिकॉर्ड अपने बल्ले से बनाए जिसकी वजह से आज भी उन्हें याद किया जाता है.

भारत के महान बल्लेबाजों में शुमार पॉली उमरीगर को कौन नहीं जानता है, पॉली उमरीगर का जन्म साल 1926 में महाराष्ट्र के शोलापुर में हुआ था। बीसीसीआई आज भी पॉली उमरीगर के नाम से एक अवॉर्ड देता है। ली उमरीगर बहुत की शानदार बल्लेबाज थे, उन्हें उनके कट और ड्राइव शॉट के लिए याद किया जाता रहा है. अपने समय में पॉली उमरीगर ने कई मैच में ऐसी आकर्षक पारियां खेलीं जिसकी वजह से उस दौर में उनके नाम कई रिकॉर्ड दर्ज हुए थे.

भारत की पहली जीत में शतक जड़ा

जब भारतीय टीम को टेस्ट मैच में पहली जीत मिली थी तब पाली उमरीगर ने उस मैच में 130 रन की शानदार शतकीय पारी खेली थी, भारतीय टीम को ये जीत 25वें प्रयास के बाद नसीब हुई थी।

टेस्ट क्रिकेट में पहला दोहरा शतक

आज के दौर का क्रिकेट है जहां वनडे क्रिकेट में तो बल्लेबाज दोहरा शतक जड़ दे रहे हैं, टी-20 क्रिकेट में अब बल्लेबाजों से दोहरे शतक की उम्मीद की जा रही है।

लेकिन एक दौर ऐसा भी था जब टेस्ट हो या वनडे शतक लगाना ही बड़ी बात हुआ करता  था और बहुत कम लोग ही ऐसा कर पाते थे।और टेस्ट क्रिकेट में तो दोहरा शतक लगाना और बड़ी बात बात हुआ करता था।

भारत की ओर से पहली बार इंटरनेशनल टेस्ट क्रिकेट में किसी बल्लेबाज ने अगर दोहरा शतक जड़ा तो वो पॉली उमरीगर ही थे जिनके नाम ये ऐतिहासिक रिकॉर्ड दर्ज हुआ जिसके लिए आज भी इन्हें याद किया जाता है। पॉली उमरीगर ने 20 नवंबर 1955 को न्यूजीलैंड के खिलाफ 223 रन जड़े थे।

पॉली उमरीगर ने 59 मैच में 42.22 की औसत से 3631 रन बनाए, जिसमें 12 शतक और 14 अर्धशतक शामिल हैं, इनके नाम 35 विकेट भी दर्ज हैं। पॉली उमरीगर अच्छे कप्तान भी साबित हुए थे।

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।