अभेद किले में तब्दील हुआ लाल किला, ऐसी सुरक्षा कि परिंदा भी पर नहीं मार सकता, जानिए क्या हैं इंतजाम ?

नई दिल्ली। 15 अगस्त को लेकर दिल्ली में लाल किले के आसपास जमीन से लेकर आसमान तक ऐसी सुरक्षा व्यवस्था की गई है कि परिंदा भी पर न मार सके. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराएंगे और देश को संबोधित करेंगे. पूरे इलाके को अभेद किले में तब्दील कर दिया गया है. हालांकि स्वतंत्रता दिवस समारोह को लेकर आतंकी हमले की धमकी को देखते हुए भी सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए हैं. लाल किले की ओर जाने वाली सभी सड़कों को आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया है. इसके साथ ही लाल किले के चारों ओर पांच किलोमीटर के दायरे में हवाई क्षेत्र को भी चिह्न्ति किया गया है.

15 अगस्त पर खुफिया एजेंसियों ने दिल्ली में ड्रोन हमले का अलर्ट जारी किया है. DRDO द्वारा विकसित काउंटर-ड्रोन सिस्टम को छोटे ड्रोन से किसी भी संभावित खतरे से निपटने के लिए लाल किले के ठीक सामने तैनात किया गया है. ताकि हवाई हमले से बचाव किया जा सके.

यह काउंटर ड्रोन सिस्टम पांच किलोमीटर तक के रेडियस से ड्रोन की पहचान कर उसे नष्ट करने में मदद करेगा. वहीं तिरंगा फहराए जाने तक लाल किले के आसपास के पांच किलोमीटर के क्षेत्र को ‘नो काइट फ्लाइंग जोन’ के रूप में चिह्न्ति किया गया है.

इसके अलावा लाल किले की सुरक्षा के चलते 10,000 से अधिक सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है. लाल किले के प्रवेश द्वार पर चेहरे की पहचान प्रणाली (FRS) वाले कैमरे लगाए गए हैं. वहीं लाल किले को जोड़ने वाले सभी मार्गो पर पुलिस की गश्त बढ़ा दी गई है और सैकड़ों की संख्या में कैमरे भी लगाए गए हैं.

लाल किले के आसपास रहने वाले लोगों की जानकारी भी इकट्ठी की गई है. वहीं जो लोग किराए पर रहते हैं उनकी भी जानकारी पुलिस ने जमा की है. लाल किले के आसपास गाड़ियों की पार्किंग को आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया है और वहां भी पुलिसकर्मियों को तैनात किया है. वहीं, 14 अगस्त को रात 10 बजे से अगले दिन सुबह 11 बजे तक वाणिज्यिक और परिवहन वाहनों की आवाजाही के लिए ये दिल्ली की सीमाएं बंद रहेंगी.

इसे भी पढ़ें : Alert For Delhi: आज रात 10 बजे से दिल्ली में भारी वाहनों का प्रवेश बंद

Related Articles

Back to top button