धान खरीदी केंद्रों में बड़े किसानों को दे रहे प्राथमिकता, छोटे किसान टोकन के लिए भटकने को मजबूर, कलेक्टर से की शिकायत…

रोहित कश्यप, मुंगेली। जिले के धान खरीदी केंद्रों में लापरवाही और मनमानी का आलम थमने का नाम नहीं ले रहा. लापरवाह कर्मचारियों ने जिले के बुंदेली धान खरीदी केंद्र में हद ही कर दी है. जिसके चलते यहां के किसान धान बेचने व टोकन कटाने के लिए पखवाड़े भर से भी अधिक समय से भटक रहे हैं.

बुंदेली समिति अंतर्गत नेवासपुर गांव के किसान रोहित खूंटे दो दिनों से पास इस बात की शिकायत लेकर कलेक्ट्रेट पहुंच रहे है कि खरीदी केंद्र के प्रभारी द्वारा 5 एकड़ से कम खेती वाले किसानों का टोकन ही नहीं काटा जा रहा है, जबकि बड़े किसानों के धान प्राथमिकता के साथ खरीदा जा रहे है क्योंकि ये इस वर्ग के किसान इन कर्मचारियों के जेब गर्म करने में पीछे नहीं हटते.

किसान ने बताया कि कल उन्होंने इस मामले की शिकायत कलेक्टर से की थी जिसके बाद आज फिर वह अपनी समस्या को लेकर खाद्य विभाग के दफ्तरों में भटक रहा था. किसान का कहना है कि उसके जैसे कई किसान टोकन कटवाने के लिए भटकने को मजबूर है. इधर कलेक्टर ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए भले ही खाद्य शाखा के अधिकारी को मार्क कर दिया हो. लेकिन खाद्य विभाग के अधिकारियों के पास इतनी फुर्सत नहीं कि किसानों की समस्या सुने.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।