25 करोड़ के लोन के चक्कर में व्यापारी हुआ लाखों की ठगी का शिकार, लोगों को सतर्क रहने की जरुरत

रायपुर। छत्तीसगढ़ में व्यापारी और लोग इतनी जल्दी क्यों ठग लिए जाते हैं? क्या ये लालच में आकर ठगी का शिकार बनते है? पुलिस द्वारा भी ऐसे कई मुहिम चलाए जाते हैं जिसमें लोगों को सतर्क रहने को कहा जाता है, लेकिन इसके बावजूद लोग सतर्कता नहीं बरत रहे हैं और ठगी का शिकार हो रहे हैं. ताजा मामला राजधानी के पंडरी थाना से निकलकर सामने आय़ा है. जहां लोन दिलाने के नाम पर ठगी की गई है.

पुलिस के मुताबिक पार्थी व्यापारी आयश अग्रवाल ने पंडरी थाने में शिकायत दर्ज करवाई है कि उसके साथ डेयरी प्रोजेक्ट के लिए 25 करोड़ की लोन दिलाने के नाम पर लाखों रुपए की धोखाधड़ी हुई है. आयश अग्रवाल एल्युमिनियम और यूपीवीसी का व्यापार करता है. पीड़ित ने कहा कि आरोपी मुकेश पांडे और गिरिराज सिंह पूरन पश्चिम कृषि प्राइवेट लिमिटेड के डायरेक्टर है.

रायपुर का व्यापारी अहमदाबाद गया हुआ था. तभी आरोपियों के संपर्क में आ गया. उस दौरान आरोपियों ने इसे डेयरी प्रोजेक्ट के लिए लोन दिलाने के नाम पर 2 किश्त में 30 लाख रुपए अपने खाते में जमा करा लिया.पैसे देने के बाद भी लोन नहीं दिलाया. दोनों आरोपी दिल्ली के रहने वाले है. पंडरी थाना पुलिस मामले की जांच कर आरोपियों को जल्द गिरफ्तार करने की बात कह रही है.

विज्ञापन

धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।