बेरोजगार हुए विद्यामितानों को सरकार से आस, मांग पूरा नहीं कर पाने पर मांगी इच्छा मृत्यु

रायपुर। शिक्षाकर्मियों के लिए सरकार ने संविलियन की राह आसान कर दी है, लेकिन विद्या मितान अभी भी मर्ज करने का इंतजार कर रहे हैं. मर्ज नहीं किए जाने पर विद्या मितान शिक्षक संघ ने इच्छा मृत्यु की मांग की है.

Close Button

विद्यामितान शिक्षक संघ के अध्यक्ष धर्मेंद्र दास वैष्णव ने बताया कि शिक्षाकर्मी वर्ग-1 के रिक्त पदों में भर्ती करने का आदेश हुआ है. लेकिन अभी तक इस दिशा में कार्रवाई नहीं हुई है, जिससे विद्या मितान सरकारी कार्यालयों का चक्कर काटने को मजबूर हैं.

धर्मेंद्र दास ने कहा कि 2150 विद्या मितान बेरोजगार हो गए हैं. सरकार से आस है कि हमारे हित में सोचे और हमें जन वादा के अनुरूप नियमित करें. शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम को पहले भी पत्र लिख चुके हैं, राज्यपाल ने भी सरकार को पत्र लिखकर नियमानुसार नियमितीकरण करने को कहा है.

संघ के अध्यक्ष ने बताया कि मंत्री टीएस सिंहदेव ने ट्वीट कर कहा था कि सरकार प्रयासरत है, लेकिन अभी तक नहीं हुआ है. वहीं शिक्षा मंत्री प्रेम साय सिंह टेकाम ने कहा है कि पत्र व्यवहार हो गया है, प्रक्रिया जारी है, सबको अवसर मिलेगा. सबका ख्याल रखा गया है, बेरोजगार नहीं होने देंगे.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।