BJP नेता ने ही केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र की खोली पोल, कहा- लखीमपुर हिंसा में मंत्री का हाथ

बलिया. लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में 3 अक्टूबर को भाजपा नेताओं के काफिले की कार से कुचलकर चार किसान और एक पत्रकार की मौत हो गई थी. BJP नेता और पूर्व विधायक राम इकबाल सिंह ने इस मामले में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा का हाथ बताया है. राम इकबाल सिंह ने केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को लखीमपुर कांड की साजिश का सूत्रधार करार देते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन्हें तत्काल बर्खास्त करने की मांग की.

सिंह ने बलिया के नगरा इलाके में मीडिया से बात करते हुए लखीमपुर कांड के लिए केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा, ‘घटना के कुछ दिन पहले केंद्रीय गृह राज्य मंत्री के दिए गए धमकी भरे बयान ने ही आग में घी का काम किया है. गृह राज्य मंत्री को किसानों से माफी मांगनी चाहिए थी, लेकिन वह अपने बेटे के बचाव में लगे हुए थे.’

मंत्री को तत्काल बर्खास्त करने की मांग

उत्तर प्रदेश भाजपा कार्य समिति के सदस्य और पूर्व विधायक सिंह ने कहा, ‘गृह राज्य मंत्री के पुत्र ने गाड़ी से किसानों को रौद कर मार डाला. उच्चतम न्यायालय के हस्तक्षेप के बाद ही उसे गिरफ्तार किया गया, मगर मिश्रा आज भी मंत्री की कुर्सी पर हैं. ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उन्हें तत्काल बर्खास्त कर देना चाहिए. ऐसा नहीं करने पर नरेंद्र मोदी को लेकर भी सवाल उठ रहे हैं.

भाजपा कार्यकर्ताओं की स्थिति गिरमिटिया मजदूर जैसी

राम इकबाल सिंह ने कहा कि लखीमपुर कांड व गोरखपुर में कारोबारी हत्याकांड से भाजपा सरकार की ‘किरकिरी’ हुई है. उन्होंने कहा कि लखीमपुर की घटना में भाजपा कार्यकर्ता भी मारे गए हैं. सरकार को उनकी भी सुधि लेनी चाहिए. उन्होंने दावा किया कि इस घटना पर सरकार की बेरुखी से प्रदेश भर के कार्यकर्ता आक्रोशित हैं. पूर्व विधायक ने कहा कि भाजपा में दल के समर्पित कार्यकर्ताओं की स्थिति गिरमिटिया मजदूर जैसी हो गई है.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।