धर्म और जातिवाद पर टिकी हुई है बीजेपी की राजनीति – किशोर समृते

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में जैसे-जैसे विधानसभा चुनाव 2022 नजदीक आता जा रहा है, वैसे ही राजनीतिक पार्टियां अपना वोट बैंक मजबूत करने में जुट गई है. छोटे दल भी सक्रिय रूप से काम कर रहे हैं. राजधानी लखनऊ पहुचें आज संपूर्ण क्रांति पार्टी के अध्यक्ष किशोर समृते ने कहा कि उत्तर प्रदेश की राजनीति के जो समीकरण दिखाई दे रहे हैं. उसको देखते हुए सभी छोटे दलों को लेकर जो पार्टियां काम करेंगी, वही सरकार बनाने में कामयाब होगी.

संपूर्ण क्रांति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक किशोर समृते ने बताया कि उत्तर प्रदेश में वर्तमान की योगी सरकार हिंदू सुरक्षा और महिलाओं की सुरक्षा को लेकर के जिस तरीके से मुद्दा बनाकर के काम कर रही है. उससे इस भारतीय जनता पार्टी को बहुत लाभ हो रहा है. वहीं अगर इसके उल्टा देखा जाए तो बेरोजगारी किसानों के मुद्दे नौजवानों के मुद्दे अगर यह सब मुद्दे उत्तर प्रदेश में प्रभावी हुए तो विपक्षी पार्टियों को इसका लाभ मिलेगा. भारतीय जनता पार्टी कभी नहीं सोचेगी कि किसानों, नौजवानों और बेरोजगारों को विपक्षी पार्टियां मुद्दा बनाकर उसको जनता के बीच ले जाकर के लाभ ले. इसलिए भारतीय जनता पार्टी जातिवाद और धर्म की राजनीति करके दोबारा से उत्तर प्रदेश की सत्ता पर काबिज होना चाहती है.

मायावती पर तंज कसते हुए किशोर ने कहा कि मायावती अगर पैसे लेकर के टिकट बेचना बंद कर दें और सर्व समाज के मुद्दे को सड़क से लेकर संसद तक सक्रिय रूप से उठाएं और लोगों के बीच जाकर अपनी बात रखें तो उनकी पार्टी काफी मजबूत स्थिति में पहुंच जाएगी. लेकिन मायावती तो पैसे लेकर के टिकट देती है. जिसके कारण उनकी पार्टी की आज स्थिति खराब है.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।