फर्जी पासपोर्ट के सहारे भारत में यात्रा कर रहे ईरानी युवक गिरफ्तार, कई धाराओं पर अपराध दर्ज

महराजगंज. पुलिस ने फर्जी पासपोर्ट के सहारे भारत में यात्रा करने वाला ईरानी युवक को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने युवक के खिलाफ कई धाराओं पर अपराध दर्ज किया है. भारत से नेपाल जाने वाले नागरिकों की चेकिंग के दौरान एक ईरानी नागरिक को रोककर उसके पासपोर्ट व वीजा की जांच की गई. उसके पासपोर्ट पर लगे मुंबई एयरपोर्ट की मुहर जो दिनांक 20-12-2019 के आगमन की फर्जी मुहर है और भारतीय वीजा संख्या v1580 3248 भी फर्जी है.

पूछताछ के दौरान पाया गया कि उसके पास ग्रीस देश का फर्जी पासपोर्ट भी है पासपोर्ट के संबंध में पूछताछ और जांच के दौरान पाया गया कि ग्रीष पासपोर्ट की वैधता भी 20/12/2021 को समाप्त हो गई है. साथ ही ग्रीस पासपोर्ट की फोटो व मोबाइल में दिखाए गए आवेदन को एक साथ संगठन करके देखा गया तो उपरोक्त दोनों फोटो और नाम अलग पाए गए. ईरानी नागरिक की पहचान छुपाकर ग्रीस पासपोर्ट की सहायता से भारत की यात्रा भी किया है. इस संदर्भ में ईरानी पासपोर्ट की यात्रा किए गए विभिन्न इमीग्रेशन कार्यालयों द्वारा फोटो की जांच अपलोड किया गया था सभी ईरानी नागरिक से मेल खाता है.

पूछताछ के क्रम में यह पाया गया कि ग्रीस पासपोर्ट के लिए 2800 यूएस डॉलर देकर भारत में ही रह रहे एक अफगानी नागरिक ओवैस नाम के व्यक्ति से मिलकर बनवाया था. एक भारतीय नागरिक नजल उर्फ कोलीवाला नाम के व्यक्ति जो दिल्ली में रहता है उसकी सहायता से फर्जी भारतीय वीजा और फर्जी स्टांप को $320 यू एस डालर देकर बनवाया था. इस ईरानी नागरिक ने अपना नाम हमिदियन हुसैन Hamidian Hossain s/o mohammad बताया और ग्रीस पासपार्ट पर उसका नाम DIMIITRIOS ELEFTHERIOS TAGARIS S/O MIKIS दर्ज है.

आरोपी द्वारा किए गए अपराध छुपा कर दो देशों को पासपोर्ट पर यात्रा के लिए फर्जी मुहर और वीजा बनाकर प्रयोग करने आदि के कार्य एक दंडनीय अपराध है. जिसके संबंध में थाना स्थानीय पर अभियोग पंजीकृत किया गया है .अभियुक्त को पुलिस हिरासत में लेकर विधिक कार्रवाई की जा रही है. प्रकाश आए नाम कि जांच की जा रही है. पंजीकृत अभियोग मुकदमा अपराध संख्य 5/22
धारा 419, 420, 467, 468, 471, 14A.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!