कोर्ट की अवमानना में नायब तहसीलदार और कोतवाल पाए गए दोषी, भेजे गए जेल

बाराबंकी. स्टे के बावजूद नायब तहसीलदार और नगर कोतवाल को भूमि पर कब्जा करवाने के मामले में कोर्ट संख्या 13 के न्यायाधीश ने नगर कोतवाल अमर सिंह व तहसील नवाबगंज में तैनात नायब तहसीलदार केपी सिंह को न्यायालय की अवमानना में दोषी पाए जाने पर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजने का आदेश दे दिया. जिसके बाद न्यायालय परिसर में हड़कंप मचा हुआ है.

बता दें कि नवाबगंज तहसील के आलापुर गांव निवासी एक शिकायतकर्ता ने कोर्ट नम्बर 13 में पत्र देकर बताया था कि हमारी जमीन का विवाद कई वर्षों से चल रहा है, जबकि उस पर नायब तहसीलदार नवाबगंज केपी सिंह ने भूमि पर स्टे होने के बावजूद नगर कोतवाली पुलिस के संग जाकर विपक्षी लोगों का कब्जा करवा दिया. इसी का संज्ञान लेते हुए न्यायालय ने इसे अवमानना माना और कोर्ट में नायब तहसीलदार व नगर कोतवाल को तलब कर लिया. जबकि सोमवार को नगर कोतवाल कोर्ट नम्बर 13 में हाजिर हुए और नायब तहसीलदार केपी सिंह अनुपस्थित रहे, जिससे न्यायाधीश के सिर का पारा चढ़ गया.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।