दशहरे पर 15 अक्टूबर को मोदी और अजय मिश्रा के फूंके जाएंगे पुतले, किसानों ने किया ऐलान

नई दिल्ली. यूपी के लखीमपुर खीरी में 3 अक्टूबर को काफिले की गाड़ी से कुचले गए किसानों की आत्मा की शांति के लिए ‘अंतिम अरदास’ के एक दिन बाद, बुधवार को संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र का पुतला जलाने की चेतावनी दी. एसकेएम ने कहा कि मोदी और कई अन्य भाजपा नेता, जिनमें गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा शामिल हैं, जिनके बेटे आशीष मिश्रा इस मामले में मुख्य आरोपी हैं, के पुतले 15 अक्टूबर को दशहरा के अवसर पर फूंके जाएंगे.

अजय मिश्रा टेनी को तुरंत बर्खास्त और गिरफ्तार करने की अपनी मांग दोहराते हुए, एसकेएम ने एक बयान में कहा, “काले झंडों के साथ विरोध कर रहे किसानों को अजय मिश्रा की धमकी के कई वीडियो मौजूद हैं, यह स्पष्ट है कि वह दुश्मनी, घृणा और वैमनस्य को बढ़ावा दे रहे थे. केंद्रीय गृह राज्यमंत्री के रूप में उनकी निरंतरता न्याय से समझौता करती है, और यह अकल्पनीय है कि नरेंद्र मोदी सरकार उनका बचाव करना जारी रखे हुए है.”

बता दें कि 3 अक्टूबर को लखीमपुर खीरी हिंसा में किसानों और एक पत्रकार समेत नौ लोगों की मौत हो गई थी. एसकेएम ने मंगलवार को ‘शहीद किसान दिवस’ करार देते हुए मारे गए किसानों की आत्मा की शांति के लिए अंतिम अरदास की थी. बयान में कहा गया है कि पूरे भारत में हजारों किसानों ने मोमबत्ती की रोशनी में श्रद्धांजलि सभा की.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।