राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 22 जून को पहुंच सकते हैं अपने पैतृक गांव

कानपुर देहात. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का अपने पैतृक गांव में पहली बार राष्ट्रपति बनने के बाद 22 जून को पहुंच सकते हैं. जिला प्रशाशन आगमन की खबर सुनते ही पैतृक गांव के सौंदर्यीकरण में जुट गया है. जैसे-जैसे तारीख नजदीक आ रही है वैसे-वैसे जिला प्रशासन विकास कार्यों को रफ्तार दे रहा है.

डेरापुर तहसील क्षेत्र के गांव परौंख में बिजली की तारों और लाइटों की मरम्मत हो रही है. 15 साल बाद गांव की इस तरीके से साफ-सफाई हो रही है. अब ग्रामीणों की मांग पर गांव में पशु अस्पताल बनाया जाएगा. राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविंद का उनके पैतृक गांव में पहली बार 22 जून को आगमन हो सकता है. संभावित दौरे को लेकर प्रशासन ने तैयारियां तेज कर दी हैं. परौंख में खराब लाइटों की मरम्मत के साथ ही विद्युत केबल बिछाने का काम जोरों पर है.

इसे भी पढ़ें – अयोध्या में राम मंदिर के लिए जमीन खरीदी में करोड़ों की हेराफेरी, इन्होंने लगाया घोटाले का आरोप

सीडीओ के निर्देश पर गांव के 726 शौचालयों का रंगरोगन शुरू किया गया है. जिन्हें भगवा रंग दिया जा रहा है. हालांकि आधिकारिक प्रोटोकाल प्राप्त होने तक अधिकारी स्पष्ट रूप से कुछ भी कहने से परहेज कर रहे हैं.

Read more – India Logs 70,421 cases; 3,921 Virus-Linked Deaths Reported

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।