मोहब्बत में धर्म बना दीवार : हिंदू लड़का-मुस्लिम लड़की होना चाहते थे एक-दूजे के, नहीं हो सकी शादी, तो दोनों ने फांसी लगाकर दी जान

अलीगढ़. आज भी इस आधुनिक समाज में मोहब्बत के बीच जाति और धर्म की दीवार खड़ी है. कहीं दूसरी जाति में शादी करने पर प्रेमी जोड़े की हत्या की जा रही है, तो कहीं अलग-अलग धर्म के जोड़े को मोहब्बत की सजा जान से चुकानी पड़ रही है. उत्‍तर प्रदेश के अलीगढ़ में हिंदू लड़का और मुस्लिम लड़की जीवन भर के लिए एक-दूजे के होना चाहते थे, लेकिन धर्म की लकीर ने दोनों की जिंदगी छीन ली. शादी नहीं हो पाने से व्यथित प्रेमी युगल ने बाग में फांसी लगाकर जान दे दी.

प्रेमी जोड़े हरदुआगंज थाना क्षेत्र के बरौठा गांव के रहने वाले हैं. सोमवार की सुबह 10 बजे लोगों ने दोनों के शव पेड़ से लटकते देखे. जान देने वालों में लड़के का नाम रविंद्र (26 वर्ष) और लड़की का नाम शबनम उर्फ शब्‍बो (24वर्ष) था. बताया जा रहा है गांव में दोनों के घर आसपास ही हैं. दोनों का प्‍यार लंबे समय से चल रहा था. इस बात की चर्चा गांव में भी फैल गई थी लेकिन अलग-अलग समुदाय का होने के चलते दोनों के परिवारवाले शादी के लिए तैयार नहीं थे. बताया जा रहा है कि इसी निराशा में दोनों ने आम के बाग में जाकर एक ही पेड़ से फांसी लगाकर अपनी जान दे दी.

इसे भी पढ़ें – प्रेमी जोड़े ने की शादी, प्रेमिका के परिवार वालों ने की मारपीट, सिर मुंडवाकर मोहल्ले में घुमाया

गांववालों के मुताबिक रविंद्र एक फैक्ट्री में काम करता था. उसके पिता पशु चिकित्‍सक हैं. रविंद्र गांव पर खेती-किसानी के काम में भी हाथ बंटाता था. जिस आग के बाग में उसने और शबनम में जान दी वह बाग भी उसी के परिवार का है. शबनम उर्फ शब्बो पढ़ाई खत्म करने के बाद अब घर पर ही रहती थी. उसके पिता शाकिर का करीब दो महीने पहले निधन हो गया था. प्रेमी युगल के फांसी लगाने की सूचना पर दोनों के परिवार के लोग और पुलिस के वरिष्‍ठ अफसर मौके पर पहुंचे. पुलिस ने दोनों शवों को पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिया.

Read more – Bhupendra Patel to Swear in as the New CM Today

">

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।