बुजुर्ग ने कफन पहनकर खुदवाई अपनी कब्र, करता रहा अपनी मौत का इंतजार, घंटों चला तमाशा

अंकित मिश्रा, बाराबंकी. उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले में एक बुज़ुर्ग ने अपनी ही मौत का तमाशा लगा दिया. बुजुर्ग की मौत का तमाशा देखने वालों की भीड़ भी इकट्ठा हो गई. जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. बुजुर्ग व्यक्ति द्वारा मौत के फरिश्ते के आने की संभावनाओं के बीच बाकायदा कब्र खुदवाई गई और बुजुर्ग खुद गुस्ल और कफन पहनकर बैठ गया.

लोग घंटों निगाहें लगाए देखते रहे कि रूह कैसे न‍िकलती है. वहीं लोगों की भावनाओं को देखते हुए बाराबंकी पुलिस और प्रशासन के लोग भी इंतजार करते रहे, लेकिन तय समय निकल जाने के बाद न मौत का फरिश्ता आया, न बुजुर्ग की मौत हुई. जिसके बाद पुलिस-प्रशासन ने किसी तरह बुज़ुर्ग को समझा कर वापस घर भेजा.

इसे भी पढ़ें – कैदियों को जमानत दिलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, पुलिस ने चार लोगों को किया गिरफ्तार

वायरल हो रहा वीडियो बाराबंकी के सफदरगंज थाना क्षेत्र के ग्राम नूरगंज का है. वीडियो नूरगंज के रहने वाले 109 साल के बुजुर्ग मोहम्मद शफी से जुड़ा है. दिन-रात इबादत में डूबे रहने वाले मोहम्मद शफी ने खुद अपने रिश्तेदारों और इलाके में रहने वालों को पैगाम भेजकर बताया था कि उनकी फरिश्ते से बात हो गई है और दोपहर एक बजकर 10 मिनट पर उनकी मौत हो जाएगी. मोहम्मद शफी ने अपनी देखरेख में ही गांव के कब्रिस्तान में कब्र खुदवाई और बाकायदा नहा-धोकर कफन पहनकर घंटों तक अपनी मौत का इंतजार करता रहा.

खुद की संभावित मौत का तमाशा बनाने वाले मोहम्मद शफी ने बताया कि वह 5 वक्त की नमाज पढ़ते हैं और हमारी फरिश्तों से रोज मुलाकात होती है. उन्होंने बताया है कि पांच साल पहले ही उनकी मौत होने इसी दिन तारीख समय पर होने के बारे में बताया था. अब दोबारा मौत को लेकर फरिश्तों से बात हुई, घंटों चले इस ड्रामे के बाद भी उस बुजुर्ग को लेने कोई मौत का फरिश्ता नहीं आया तब पुलिस ने किसी तरह समझा बुझाकर कर उन्हें घर भेजा.

Read more – Prices Of Petrol, Diesel Hiked For Fourth Consecutive Day

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।