ट्विटर बना युद्ध का मैदान : दलित युवक की हत्या के मुद्दे पर भिड़े अशोक गहलोत के OSD और योगी के सलाहकार

लखनऊ. सोशल मीडिया अब बयानबाजी का बेहतर विकल्प बन गया है. ट्विटर अब युद्ध का मैदान बन गया है. राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के विशेष कार्य अधिकारी (ओएसडी) लोकेश शर्मा और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी के बीच राजस्थान के हनुमानगढ़ में दलित युवक की हत्या के मुद्दे पर ट्विटर पर तीखी बयानबाजी देखने को मिली है.

शलभ मणि त्रिपाठी ने अशोक गहलोत के बयान का 13 सेकंड का हिस्सा ट्वीट करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी पर निशाना साधा. उन्होंने लिखा, “ईमानदारी से सच्चाई को स्वीकार करने के लिए आभार आदरणीय अशोक गहलोत जी, सच ही कहा आपने, हर लाश पर महज वोटों की खेती करने वाले राजस्थान क्यूं जाएंगे भला, उनको तो केवल राजनीति करनी है. उनसे संवेदना की उम्मीद करना बेवकूफी ही तो है.”

शलभ मणि के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देते हुए गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा ने विस्तारित वीडियो (सीएम गहलोत का लगभग 32 सेकंड का बयान) पोस्ट किया और लिखा, “माननीय मुख्यमंत्री की पूरी बात ये है.. महाशय आप उसका 13 सेकंड का हिस्सा निकालकर गलत तथ्य पेश कर रहे हैं. आपसे आग्रह है कि कृपया झूठ न फैलाएं.”

भाजपा के सवालों पर पलटवार करते हुए गहलोत ने कहा था, “प्रियंका गांधी वाड्रा और राहुल गांधी उन राज्यों का दौरा करेंगे जहां विपक्षी सरकारें हैं. राजस्थान में अमित शाह और जे.पी. नड्डा जैसे भाजपा नेताओं को आना चाहिए, क्योंकि यहां कांग्रेस की सरकार है.”

इस बयान के बाद शर्मा और त्रिपाठी के बीच ताजा वाकयुद्ध शुरू हो गया. बता दें कि हाल ही में हनुमानगढ़ जिले में एक दलित व्यक्ति की कथित तौर पर पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।