लॉकडाउन में हुआ बेरोजगार, घर में नहीं था खाने को अनाज, पति ने मांगे गहने, पत्नी ने किया इंकार तो कुल्हाड़ी से काट डाला

फतेहपुर. लॉकडाउन ने एक व्यक्ति की नौकरी छीन ली. काम न करने और आमदनी न होने से रोजी-रोटी का संकट आ गया. घर में खाने के लिए अनाज नहीं था. अक्‍सर पति-पत्नी के बीच विवाद होने लगा. पति ने खर्च के लिए पैसे नहीं होने से पत्नी से गहने मांगे, लेकिन पत्नी भी गहने देने से साफ इंकार कर दिया. गुस्‍से में पति ने सोमवार की देर शाम पत्नी को कुल्हाड़ी से काट डाला और सभी जेवरात लेकर भाग निकला.

यह मामला चांदपुर थाना क्षेत्र के गोहरारी गांव का है. राजेंद्र उर्फ सुद्दी तिवारी सूरत में रहकर मजदूरी करता था. बताया कि पिछले साल लॉकडाउन के दौरान काम छूट जाने पर वह घर वापस आ गया था. मौजूदा समय में वह गाजीपुर क्षेत्र के बड़नपुर चौराहे पर श्याम कुमार के मकान में पत्नी ममता तिवारी व दो बेटों राज तिवारी और दीपक के साथ रह रहा था. वहीं सामने लिए प्लाट में निर्माण भी करा रहा था. पिछले काफी समय से राजेंद्र घर पर खाली बैठा था, जिसका विरोध उसकी पत्नी करती थी. जिसे लेकर आए दिन विवाद होता रहता था.

इसे भी पढ़े- मार्मिक खबर : लॉकडाउन में गई नौकरी, पत्नी ने भी छोड़ा साथ तो लगा ली फांसी, भूखे बच्चे तीन दिन तक कहते रहें पापा खाना दो…

सोमवार शाम बड़ा बेटा राज तिवारी अपने मौसा के गांव गया था, वहीं दीपक शहर आया हुआ था. दीपक शाम को जब घर पहुंचा तो घर के बाहर ममता कंबल में ढंकी हुई पड़ी थी. उसने कंबल हटाया तो मां को लहूलुहान हालत में देख उसकी चीख निकल गई. गले में कई वार थे और वहीं कुल्हाड़ी पड़ी थी. मामले की जानकारी पर अन्य परिजन भी पहुंचे और आरोप लगाया कि राजेन्द्र ने ममता की कुल्हाड़ी से काटकर हत्या कर दी और सारे जेवरात लेकर भाग निकला. मामले की जानकारी पर पुलिस ने पहुंचकर शव कब्जे में ले लिया. पुलिस इस मामले को लेकर जांच कर रही है.

Read more – 21 Cases of Delta Plus Variant Detected in Maharashtra

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।