लिवर कैंसर के कारण दिग्गज बॉक्सर का निधन, 2013 में मिला था पद्म श्री पुरूस्कार…

मुंबई. कोरोना वायरस संक्रमण के कारण अब तक कई लोगों की जाने गई है. इसी बीच अब दिग्गज बॉक्सर Dingko Singh का गुरुवार को निधन हो गया. हालांकी इनका निधन कोरोना के कारण नहीं बल्की लिवर कैंसर के कारण हुआ है. 1998 में एशियन गेम्स के गोल्ड मेडलिस्ट Dingko Singh लिवर कैंसर से जूझ रहे थे, 2017 से ही उनका उपचार चल रहा था.

Close Button

बता दें कि Dingko Singh पिछले साल कोरोना की चपेट में भी आ गए थे. 42 साल के डिंको कोरोना से ठीक होकर अस्पताल से घर लौट गए थे. मणिपुर के रहने वाले डिंको को 1998 में अर्जुन पुरस्कार और 2013 में पद्म श्री से नवाजा गया था. वह मैरीकॉम जैसे कई स्टार बॉक्सर के रोल मॉडल रहे.

इसे भी पढ़ें- रवीश कुमार का प्राइम टाइम : सॉरी PM, ऑक्सीजन संकट अकल्पनीय नहीं था

ओलंपिक मेडलिस्ट बॉक्सर Vijender Singh ने Dingko Singh के निधन पर शोक प्रकट किया है. Vijender ने ट्वीट किया, ‘मैं डिंको सिंह को श्रद्धांजलि देता हूं. उनके जीवन की यात्रा और संघर्ष आने वाली पीढ़ियों के लिए हमेशा प्रेरणा स्रोत बनी रहेगी. मैं ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि शोक संतप्त परिवार को दुख की इस घड़ी से उबरने की शक्ति मिले.’

Dingko Singh के निधन पर केंद्रीय खेल मंत्री Kiren Rijiju ने भी दुःख प्रकट किया है. मंत्री Kiren Rijiju ने ट्वीट किया, ‘मैं  डिंको सिंह के निधन से बहुत दुखी हूं. वह भारत के सर्वश्रेष्ठ मुक्केबाजों में से एक थे. डिंको के 1998 बैकॉक एशियाई खेलों में जीते गए स्वर्ण पदक ने भारत में मुक्केबाजी क्रांति को जन्म दिया. मैं शोक संतप्त परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं. ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे.’

बता दें कि डिको सिंह ने 1997 में अपना इंटरनेशनल बॉक्सिंग डेब्यू किया था. बैंकॉक में हुए किंग्स कप में उन्होंने गोल्ड मेडल पर कब्जा किया था. इसके बाद डिंको 1998 में बैंकॉक एशियन गेम्स में 54 kg बैंटमवेट कैटेगरी में स्वर्ण पदक जीतने में सफल रहे थे. डिंको सिंह को भारतीय नौसेना में नियुक्त किया गया था और वह खिलाड़ियों को कोचिंग भी देते थे. हालांकि कैंसर होने के बाद से वह घर पर रहने को मजबूर थे.

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।