Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

नई दिल्ली। देश को आज अपना 14वां उप राष्ट्रपति मिल जाएगा. इसके लिए संसद भवन में आज सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे वोट डाले जाएंगे. इसके तुरंत बाद वोटों की गिनती की जाएगी. देर शाम तक निर्वाचन अधिकारी देश के नए उपराष्ट्रपति के नाम की घोषणा कर देंगे. इस बार मुकाबला राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ और विपक्ष की संयुक्त उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा के बीच है.

उप राष्ट्रपति चुनाव में भाजपा के नेतृत्व वाले सत्तारूढ़ गठबंधन के उम्मीदवार जगदीप धनखड़ का पलड़ा भारी है. विभिन्न दलों से मिले समर्थन को देखते हुए धनखड़ को 67 फीसदी से ज्यादा वोट मिलने का अनुमान है. विपक्षी उम्मीदवार कांग्रेस की मार्गरेट अल्वा के साथ पूरा विपक्ष नहीं जुट पा रहा है. तृणमूल कांग्रेस ने पहले ही अपना पल्ला झाड़ चुकी है, तो वहीं बसपा, वाईएसआरसीपी, बीजद, तेलुगुदेशम जैसे दल धनखड़ के समर्थन में खड़े हैं.

चुनाव आनुपातिक प्रतिनिधित्व प्रणाली के अनुसार, एकल संक्रमणीय मत के माध्यम से होगा. इसमें केवल राज्यसभा और लोकसभा के सदस्य ही मतदान करेंगे. इस समय दोनों सदनों में 788 सदस्य हैं. बहुमत का आंकड़ा 395 है. भाजपा के दोनों सदनों में अपने 394 सांसद हैं. यानी उसके अपने ही वोट 50 फीसदी हैं. राजग को मिलाकर यह आंकड़ा 445 सांसदों का हो जाता है. हाल के चार मनोनीत सांसदों को मिलाकर राजग के पास 449 सांसदों का समर्थन हो जाता है. इसके अलावा उसे अन्य दलों से भी समर्थन हासिल है. इनमें वाईएसआरसीपी (31), बीजद (21), बसपा (11), तेलुगुदेशम (4) शामिल हैं. इनके समर्थन के साथ धनखड़ के पक्ष में आंकड़ा 512 वोट का हो जाता है.

वेंकैया नायडू ने बड़े अंतर से हासिल की थी जीत

बता दें कि पिछली बार 2017 के उप राष्ट्रपति चुनाव में राजग के वैंकेया नायडू ने विपक्ष समर्थित निर्दलीय उम्मीदवार गोपाल कृष्ण गांधी को हराया था. तब नायडू को 516 (67.89 फीसदी) व गांधी को 244 (32.11) फीसदी वोट मिले थे. इस बार विपक्ष और ज्यादा बिखरा हुआ है.

भाजपा ने सांसदों को कराया मतदान का अभ्यास

उप राष्ट्रपति चुनाव के लिए भाजपा ने एक दिन पहले शुक्रवार शाम को सभी सहयोगी दलों के सांसदों के साथ बैठक की है. इसमें सांसदों को मतदान का अभ्यास भी कराया गया, ताकि कोई भी वोट खराब न हो. गौरतलब है कि राष्ट्रपति चुनाव में लगभग 17 वोट गलत मतदान के कारण रद्द कर दिए गए थे.

सोमवार को राज्यसभा देगी सभापति नायडू को विदाई

राज्यसभा सोमवार को अपने सभापति एम. वेंकैया नायडू को विदाई देगी, जिनका कार्यकाल 10 अगस्त को पूरा हो रहा है. राज्यसभा के उपसभापति हरिवंश ने शुक्रवार को सदन में इसकी घोषणा की. उच्च सदन में शुक्रवार को प्रश्नकाल समाप्त होने के बाद हरिवंश ने कहा कि राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू 10 अगस्त को अवकाश ग्रहण कर रहे हैं. सदन उन्हें सोमवार, 8 अगस्त को विदाई देगा. इस वजह से उस दिन शून्यकाल नहीं होगा.

छत्तीसगढ़ की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें

उत्तर प्रदेश की खबरें पढ़ने यहां क्लिक करें

लल्लूराम डॉट कॉम की खबरें English में पढ़ने यहां क्लिक करें

खेल की खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

मनोरंजन की बड़ी खबरें पढ़ने के लिए करें क्लिक