उल्टी-दस्त ने इस गांव में पसारे पैर, अब तक तीन ग्रामीणों की हुई मौत, स्वास्थ्य विभाग का अमला हुआ सक्रिय…

सुदीप उपाध्याय, बलरामपुर। वाड्रफनगर विकासखण्ड के ग्राम गैना में उल्टी-दस्त ने अपने पांव पसार लिए हैं. यहां उल्टी- दस्त से पीड़ित 3 ग्रमीणों की कल शनिवार को मौत हो गई. मृतकों में एक 9 वीं कक्षा की छात्रा भी शामिल है. वहीं आज स्वास्थ्य अमला गांव पहुंचा है. यहां कैम्प लगाकर ग्रामीणों का इलाज किया जा रहा है.

दरअसल जिला मुख्यालय से दूरस्थ अंचल पर बसे ग्राम गैना में उल्टी दस्त के प्रकोप से 15 वर्षीय छात्रा राजपति, 70 वर्षीया फूलमती सिंह, 70 वर्षीय ननकू राम सेमरियापारा की मौत हो गई है. स्वास्थ्य अमले से मिली प्रारंभिक जानकारी के मुताबिक ये सभी 12 सितम्बर से उल्टी दस्त से पीड़ित थे.

बता दे कि गांव के सेमरियापारा में उल्टी दस्त से हुई मौतो के बाद अब स्वास्थ्य विभाग का अमला सक्रिय हुआ है. और अब गांव पहुंचकर कैम्प लगाया गया है. जहां उल्टी दस्त से पीड़ित मरीजों का इलाज जारी है.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।