2019 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के लिए सही विकेटकीपर कौन? धोनी या पंत, इस पर सहवाग ने कही है बड़ी बात

स्पोर्ट्स डेस्क– भारत का इंग्लैंड दौरा तो खत्म हो गया, टीम इंडिया को इस दौरे में भले ही टेस्ट सीरीज में करारी हार मिली, लेकिन ये दौरा कुछ खिलाड़ियों के लिए बहुत खास रहा, इनमें से एक हैं रिषभ पंत। युवा खिलाड़ी रिषभ पंत को बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज टेस्ट टीम में इंग्लैंड दौरे के लिए टीम में जगह दी गई थी, किस्मत अच्छी थी और उन्हें प्लेइंग इलेवन में शामिल होने का मौका भी मिला। और फिर आखिर-आखिर में सीरीज के आखिरी टेस्ट मैच की दूसरी पारी में रिषभ पंत ने अपना कमाल भी दिखा दिया, ऐसी बल्लेबाजी, और शानदार शतक जड़ा, जिसकी तारीफ हर ओर होने लगी है, और ज्यादातर क्रिकेट के जानकार अब रिषभ पंत को धोनी का रिप्लेसमेंट मानने लगे हैं। ऐसे में अब बहस इस पर भी होनी शुरू हो गई है, कि साल 2019 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के लिए सही विकेटकीपर बल्लेबाज कौन होगा, धोनी या रिषभ पंत, क्या रिषभ पंत पर दांव खेलना चाहिए, या फिर धोनी के साथ ही 2019 वर्ल्ड कप खेलना चाहिए और इस पर पूर्व दिग्गज खिलाड़ी वीरेंन्द्र सहवाग ने बेबाकी से अपनी राय रखी है।

2019 वर्ल्ड कप में धोनी या पंत इस पर बोले सहवाग

वीरेंन्द्र सहवाग जब क्रिकेट के मैदान पर बल्ला लेकर उतरते थे तो उन्हें ताबड़तोड़ पारी के लिए जाना जाता था, उनकी बल्लेबाजी की अलग ही स्टाइल थी और उनके दीवानों की कमी नहीं थी, और अब जब क्रिकेट से संन्यास ले लिया है तो अपनी बेबाक राय के लिए जाने जाते हैं। जो बोलते हैं खुलकर बोलते हैं और इस बार भी जब बहस छिड़ी है कि साल 2019 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के लिए कौन सही खिलाड़ी है धोनी या पंत तो इस पर वीरेंन्द्र सहवाग ने अपनी राय बेबाकी से रखी है।

सहवाग ने कहा है कि साल 2019 वर्ल्ड कप में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज एम एस धोनी को ही खेलना चाहिए। क्योंकि धोनी के पास जो अनुभव है वो पूरी टीम के पास नहीं है। सहवाग ने आगे कहा कि हलांकि धोनी अगले वर्ल्ड कप के फाइनल तक 38 साल के हो जाएंगे, लेकिन उनका वनडे करियर इतना शानदार रहा है, जिनके लीडरशिप में भारत ने 2011 में वर्ल्ड कप जीता, जिन्होंने टीम को इतने मैच अकेले दम पर जिताए, जिसके पास 300 से भी अधिक वनडे मैच का अनुभव है, ऐसे खिलाड़ी को कैसे नजरअंदाज किया जा सकता है।
वीरेंन्द्र सहवाग ने कहा कि मेरी निजी राय में एम एस धोनी को वर्ल्ड कप 2019 तक टीम का हिस्सा बने रहना चाहिए, सहवाग ने कहा अगर आप रिषभ पंत को अभी से खिलाना शुरू करते हैं तो वो भी वर्ल्ड कप तक 15-16 वनडे मैच ही खेल सकता है, जबकि एम एस धोनी के पास 300 से अधिक वनडे मैच खेलने का अनुभव है। मैं चाहता हूं कि धोनी को ही वर्ल्ड कप 2019 में शामिल किया जाए, उनका अनुभव और खेल टीम के बहुत काम आएगा।

वीरेंन्द्र सहवाग यहीं नहीं रूके उन्होंने आगे और कहा कि हां जब एम एस धोनी संन्यास ले लें तो उनकी जगह रिषभ पंत लें। वीरू ने कहा कि वैसे एम एस धोनी के पास अभी हाल ही में शुरू हो रहे एशिया कप में शानदार प्रदर्शन कर अपने आलोचकों का मुंह बंद करने का शानदार मौका भी है।

Advertisement
Back to top button
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।