whatsapp

क्या रवीश कुमार भी देंगे इस्तीफा ? NDTV के मालिक प्रणय और राधिका रॉय ने किया रिजाइन, जानिए अब बोर्ड में कौन से चेहरे शामिल ?

Prannoy roy resign: NDTV के मालिक और संस्थापक प्रणय रॉय और राधिका रॉय ने मंगलवार, 29 नवंबर को आरआरपीआर होल्डिंग प्राइवेट लिमिटेड (RRPRH) के निदेशक पद से इस्तीफा दे दिया है. इससे अब देशभर के लोगों की जुबान पर बस यही सवाल है की क्या देश के नामी, बेबाक और बेखौप पत्रकार रवीश कुमार भी इस्तीफा देंगे.

किसने संभाली कमान ?
बताया गया है कि सुदीप्त भट्टाचार्य, संजय पुगलिया और सेंथिल सिन्नैया चेंगलवारायण को तत्काल प्रभाव से आरआरपीआरएच (RRPRH) के बोर्ड में निदेशक के रूप में नियुक्त किया जाता है.

भारतीय प्रतिभूति एवं विनियम बोर्ड (सेबी) ने 7 नवंबर को 492.81 करोड़ रुपये की इस खुली पेशकश को मंजूरी दी थी. इसके जरिए 294 रुपये प्रति शेयर की कीमत से 1 करोड़ 67 लाख शेयरों की पेशकश की गई है.

अदानी ग्रुप के चेयरमैन गौतम अदानी ने एक इंटरव्यू में कहा था कि NDTV को खरीदना एक मौका नहीं बल्कि एक जिम्मेदारी है. इस दौरान उन्होंने यह भी कहा था कि आजादी का मतलब सही को सही और गलत को गलत कहना है. अगर सरकार ने कुछ गलत किया है तो आप कहते हैं कि यह बात गलत है.

वहीं दूसरी तरफ अगर सरकार कुछ अच्छा कर रही है तो उसे अच्छा कहने की हिम्मत आपमें भी होनी चाहिए। इसके अलावा उन्होंने NDTV के मालिक और संस्थापक प्रणय रॉय को भी इसका प्रमुख बने रहने के लिए आमंत्रित किया.

29 फीसदी हिस्सेदारी खत्म हो गई

अगस्त में अडानी समूह ने विश्वप्रधान कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड (वीसीपीएल) के अधिग्रहण की घोषणा की थी, जिसने 2009 और 2010 में एनडीटीवी के व्यापार प्रवर्तकों यानी प्रणय रॉय और राधिका रॉय को 403.85 करोड़ रुपये उधार दिए थे.

इसके एवज में एनडीटीवी की 29.18 फीसदी हिस्सेदारी कर्जदाता को कभी भी बेचने का प्रावधान किया गया था. अब अदाणी ग्रुप की कंपनी ने 26 फीसदी हिस्सेदारी खरीदने के लिए ओपन ऑफर पेश किया है.

क्या रवीश देंगे इस्तीफा ?

माना जा रहा है कि आने वाले दिनों में कई और पत्रकार संस्थान से इस्तीफा देंगे. इनमें जाने-माने पत्रकार रवीश कुमार भी शामिल हैं. मीडिया में बातें चल रही हैं कि जल्द वे इस्तीफा दे सकते हैं, क्योंकि खबरों पर दखलअंदाजी से वे हमेशा मुखर रहे हैं.

इसके पहले रवीश कुमार ने इशारों में ऐसे कयासों पर जवाब दिया था. उन्होंने कहा था कि अपने ही अंदाज में उन्होंने ट्वीट कर ऐसे कयासों का खंडन किया. रवीश कुमार ने लिखा था कि, ‘माननीय जनता, मेरे इस्तीफ़े की बात ठीक उसी तरह अफ़वाह है, जैसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मुझे इंटरव्यू देने के लिए तैयार हो गए हैं और अक्षय कुमार बंबइया आम लेकर गेट पर मेरा इंतज़ार कर रहे हैं.’

इसे भी पढ़ें : भानुप्रतापपुर उपचुनाव : कांग्रेस और भाजपा ने झोंकी ताकत, CM बघेल रोड शो समेत 8 चुनावी सभा को करेंगे संबोधित

Related Articles

Back to top button