स्व-सहायता समूह की महिलाओं ने बीईओ के खिलाफ खोला मोर्चा, कमीशनखोरी का लगाया आरोप…

अजय सूर्यवंशी, जशपुर। बगीचा विकासखंड में पदस्थ ब्लॉक शिक्षा अधिकारी मनीराम यादव के विरोध में महिला स्व-सहायता समूह की सदस्यों ने मोर्चा खोल दिया है. महिलाओं का आरोप है कि शिक्षा अधिकारी अपना कमीशन वसूलने के लिए उन्हें अपमानित करने में भी पीछे नहीं रहते हैं.

स्व-सहायता समूह की महिलाओं का कहना है कि कलेक्टर रितेश अग्रवाल के समक्ष अवैध लेन-देन करते हुए एक वीडियो भी दिखाया है, जिसमें साफ देखा जा सकता है कि बीईओ को पैसा लेते दिखाई दे रहे हैं. शिकायत के बाद बीईओ मनीराम यादव को हटाकर डीईओ कार्यालय में अटैच कर जांच शुरू कर दी गई है.

लेकिन अब आरोप है कि वित्तीय अधिकार पूर्व बीईओ के चहेते को दिया गया है, इससे जांच पर सवालिया निशान लग रहा है. जबकि क्लेक्टर के आदेश में सभी प्रभार नवपदस्थ बीईओ को दिया गया है, उसके बाद भी डीईओ जेके प्रसाद ने क्लेक्टर के आदेश का अवहेलना कर आदेश में संशोधन कर दूसरे को वितीय पवार दे दिया है.

जांच टीम दो दिसम्बर को सभी स्वसहायता की महिलाओं से पूछताछ करने पहुंची, लेकिन जांच टीम के पहुंचने से पहले ही संकुल समन्वयक रात को महिलाओं के घर पहुंचकर राजीनामा के पेपर पर दबाव बनाकर सिग्नेचर ले रहे हैं. जिस बात की जानकारी रिकार्डिंग महिलाओं के पास उपलब्ध है.

इस मामले में बगीचा अनुविभागीय अधिकारी आकांक्षा त्रिपाठी का कहना है कि क्लेक्टर से इस मामले में शिकायत हुई थी. शिकायत के बाद जांच चल रही है, जांच होते तक बीईओ मनीराम यादव को हटाते हुए डीईओ कार्यालय में अटैच किया गया है. जांच के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!