Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

दिल्ली. महिलाएं बच्चे, घर और ऑफिस में अक्सर इतना खो जाती हैं कि उनके पास अपनी सेहत पर ध्यान देने का समय नहीं होता है. ज्यादातर परिवारों में महिलाओं का यह हाल देखने को मिल जाता है. उम्र के बढ़ने के साथ-साथ महिलाएं को कई तरह के रोग भी घेरने लगते हैं.

विशेषज्ञों की मानें, तो शरीर में होने वाले न‍िरंतर बदलाव की वजह से मह‍िलाओं को हर उम्र में खुद पर ध्‍यान देने की जरूरत होती है. मह‍िलाओं को उम्र बढ़ने के साथ ब्रेस्‍ट की जांच, हड्ड‍ियों की जांच, कैंसर स्‍क्रीन‍िंग आद‍ि करवानी चाह‍िए. इसके साथ उन्‍हें अपनी डाइट, एक्‍सरसाइज और स्‍क‍िन का ख्‍याल भी रखना जरूरी हो जाता है. इसके अलावा उन्हें सेहत से जुड़ी इन गलतियों को भी करने से बचना चाहिए.

इसे भी पढ़ें – Jio का बड़ा ऐलान : खत्म हुआ 28 दिन का झंझट, अब मिलेगा 1 महीने की Validity के साथ प्लान…

महिलाएं भूलकर भी न करें सेहत से जुड़ी ये गलतियां

मेमोग्राम नहीं करवाने की गलती – महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर का खतरा अधिक बना रहता है. मेमोग्राम टेस्‍ट से ब्रेस्‍ट कैंसर के पता चलता है इसल‍िए महिलाओं को समय-समय पर इसकी जांच जरूर करवानी चाह‍िए. इसके लिए 40 साल के बाद हर साल कम से कम एक बार मेमोग्राम टेस्ट जरूर करवाएं.

हड्डियों को लेकर लापरवाही – महिलाओं में उम्र बढ़ने के साथ शरीर में कैल्शियम की कमी भी होने लगती है, जिसकी वजह से हड्डियां टूटने का डर भी बना रहता है. हड्डियों से जुड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए भरपूर मात्रा में कैल्शियम का सेवन करें. इसके लिए रोजाना एक गिलास दूध पीना चाह‍िए और हड्ड‍ियों को मजबूत रखने के ल‍िए कसरत और हर साल बोन डेनस‍िटी टेस्‍ट भी करवाना चाह‍िए. लेकिन ज्यादातर महिलाएं इस टेस्ट को लेकर भी काफी लापरवाही बरतती हैं.

सनस्क्रीन लगाने में करती हैं आलस – 40 की उम्र पार करते ही कई मह‍िलाएं खुद को बूढ़ा समझकर अपने ऊपर ध्‍यान देना बंद कर देती हैं. इसी गलती में धूप में बाहर निकलने से पहले चेहरे और हाथों पर सनस्क्रीन अप्लाई न करना भी शामिल है. स्‍क‍िन के ल‍िए यूवी रेज़ से बचाव जरूरी है. स्किन हानिकारक पराबैंगनी किरणें के चलते खराब होने लगती है. जिससे बचाव के लिए सनस्क्रीन फेस और बॉडी पर लगाई जाती हैं. इसे लगाने से सनबर्न, बढ़ती उम्र के लक्षण और स्किन कैंसर से बचाव होता है. इसलिए जब कभी बाहर धूप में बाहर निकलें तो त्वचा पर सनस्क्रीन जरूर लगाएं.

इसे भी पढ़ें – आधार कार्ड को आज ही करा लें राशन कार्ड से लिंक, ऐसे कर सकते हैं ऑनलाइन और ऑफलाइन प्रोसेस…

वर्कआउट न करने की गलती – उम्र बढ़ने के साथ मसल्‍स मांस घटने लगता है और मसल्‍स पर फैट बढ़ने लगता है, इससे मेटाबॉल‍िज्‍म रेट कम हो जाता है. जो मह‍िलाएं कसरत से दूर रहती हैं लेकिन कैलोरीज का सेवन अधिक कर लेती है, उनका वजन अचानक बढ़ जाता है. ऐसे में शरीर को हेल्‍दी बनाए रखने के ल‍िए रोजाना कसरत करें.

हर साल अपने डॉक्टर से मिलें – एक्सपर्ट के अनुसार महिलाओं को अपना हेल्थ टेस्ट करवाने के लिए हर साल अपने डॉक्टर से मिलना चाहिए, जो कि ज्यादातर महिलाएं नहीं करती हैं. लेकिन अगर आपकी उम्र 21 या इससे अधिक है, तो हर 3 साल में सर्वाइकल कैंसर की जांच के लिए पैप टेस्ट करवाएं, अगर आपकी उम्र 30-65 है, तो आप हर 5 साल में पैप टेस्ट और एचपीवी टेस्ट दोनों करवा सकते हैं. यदि आप सेक्सुअली एक्टिव हैं और आपको एसटीडी होने का अधिक खतरा है, तो क्लैमाइडिया, गोनोरिया और सिफलिस के लिए सालाना परीक्षण करवाएं.