चीन की गद्दारी पर अब Zomato का विरोध, डिलीवरी ब्वॉयज ने छोड़ी नौकरी, जलाया टी-शर्ट

जोमैटो में चीनी निवेश का कर्मचारी कर रहे विरोध।

नई दिल्ली। भारत-चीन झड़प के बाद चीनी प्रोडक्ट्स का विरोध भी बढ़ने गया है. कोलकाता में शनिवार को जोमैटो के कुछ कर्मचारियों ने कंपनी का टी-शर्ट फाड़कर और जलाकर विरोध जताया है. कुछ कर्मचारियों ने प्रदर्शन करते हुए दावा किया है कि उन्होंने जोमैटो की नौकरी छोड़ दी है, क्योंकि इसमें चीन का निवेश है. साथ ही उन्होंने लोगों से जोमैटो के जरिये भोजन का ऑर्डर नहीं करने का अपील की है.

Close Button

जोमैटो का बहिष्कार करने की अपील करते हुए लगभग एक दर्जन जोमैटो स्टाफ ने कंपनी की टी शर्ट जला दी. जोमैटो में काम कर रहे युवक दक्षिण कोलकाता में बेहला पुलिस स्टेशन के सामने जमा हुए और जोमैटो की टी शर्ट जलाई. हाथों में तिरंगा लिए हुए जोमैटो के ये स्टाफ ‘चाइनीज एजेंट जोमैटो भारत छोड़ो’ के नारे लगा रहे थे. महानगर के बेहाला इलाके में 100 से अधिक डिलीवरी ब्वॉय ने जोमैटो से इस्तीफा देने का फैसला किया है.

बता दें कि जोमैटो फूड डिलीवरी स्टार्टअप कंपनी है. साल 2008 में इस कंपनी की स्थापना पंकज चढ्ढ़ा और दीपेंदर गोयल नाम के दो कारोबारियों ने की थी.  इसका मुख्यालय हरियाणा के गुरुग्राम में है. रिपोर्ट के मुताबिक एंट फाइनेंशियल, जो कि चीन की ई-कॉमर्स कंपनी अलीबाबा की सब्सिडयरी कंपनी है. इसने साल 2018 में जोमैटो में 21 करोड़ डॉलर का निवेश कर उसकी 14.7 प्रतिशत की हिस्सेदारी खरीदी है. इसके लिए कंपनी ने जोमैटो में 210 मिलियन डॉलर का निवेश किया है.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।