कोयले की कमर्शियल माइनिंग के फैसले के बाद पहली बार छत्तीसगढ़ पहुंचे केंद्रीय कोयला मंत्री प्रहलाद जोशी, CM भूपेश से मिल कोल ब्लाॅक की नीलामी के मुद्दे पर होगी बातचीत

भूपेश सरकार ने केंद्र को चिठ्ठी लिखकर जताई है असहमति

रायपुर- कोल ब्लाॅक की कमर्शियल माइनिंग कराए जाने के केंद्र सरकार के फैसले के बाद केंद्रीय कोयला मंत्री प्रहलाद जोशी राजधानी के प्रवास पर पहुंचे हैं. पटेल कल एसईसीएल अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे.

Close Button

एय़रपोर्ट पर मीडिया से बातचीत में प्रहलाद जोशी ने इशारो-इशारों में यह बताया कि कोल ब्लाॅक की नीलामी को लेकर राज्य सरकार के साथ सहमति बनाई जाएगी. उन्होंने कहा कि- मोदी सरकार संघीय व्यवस्था में विश्वास करती है, इसलिए मिलकर चर्चा की जाएगी. मैं मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से मुलाकात करूंगा. एक दिवसीय प्रवास के दौरान प्रहलाद जोशी एसईसी रेलवे के अधिकारियों के साथ भी मिलेंगे. राज्य के स्पंज आयरन उद्योग के प्रतिनिधियों से भी उनकी मुलाकात होगी.

बता दें कि केंद्र सरकार ने देशभर के कोल ब्लाॅक की कमर्शियल माइनिंग को मंजूरी दी है. इसमें छत्तीसगढ़ के कोल ब्लाॅक भी शामिल हैं. राज्य की कांग्रेस सरकार ने इसके कई बिंदुओं पर अपनी असहमति जताई है. सरकार ने घने जंगलों वाले इलाके में माइनिंग के लिए होने वाली नीलामी का विरोध करते हुए भारत सरकार को चिट्ठी भेजी है. वन मंत्री मो.अकबर ने भी पिछले दिनों केंद्र सरकार को पत्र लिखकर हसदेव अरण्य के प्रस्तावित हाथी रिजर्व क्षेत्र में आने वाले कोल ब्लाॅक को नीलामी से बाहर रखने की मांग की थी.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।