नान घोटाला मामले में बड़ी कार्रवाई : उपलेखाधिकारी चिंतामणि चंद्राकर को EOW ने किया गिरफ्तार, पूछताछ में कई अहम राज आएंगे बाहर

रायपुर। नान घोटाले मामले में ईओडब्ल्यू की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए उपलेखाधिकारी चिंतामणि चंद्राकर को गिरफ्तार कर लिया है. ईओडब्ल्यू के अफसरों की टीम नान घोटाले को लेकर चंद्राकर से लगातार पूछताछ कर रही है.

रविवार सुबह ईओडब्ल्यू की टीम चिंतामणि के दुर्ग स्थित निवास पहुंची और उन्हें गिरफ्तार कर रायपुर लाई. जहां उनसे लगातार सवाल पूछे जा रहे हैं. पूछताछ में नान घोटाले को लेकर बड़ा खुलासा होने की उम्मीद की जा रही है. सूत्रों के मुताबिक चंद्राकर से पूछताछ के बाद ईओडब्ल्यू की टीम जल्दी ही कोई बड़ी कार्रवाई को अंजाम दे सकती है.

इससे पहले ‘सीएम’ के नाम से मशहूर चंद्राकर के कांकेर, दुर्ग, बेंगलुरु और रायपुर स्थित ठिकानों पर ईओडब्ल्यू ने छापामार कार्रवाई की थी. जिसमें करोड़ों रुपये की काली कमाई का खुलासा हुआ था. आपको बता दें चिंतामणि चंद्राकर के ऊपर नान घोटाले में शामिल होने का आरोप है. 2015 में पीडीएस में गड़बड़ी को लेकर छापामार कार्रवाई हुई थी जिसमें 36 हजार करोड़ से ज्यादा के घोटाले की जानकारी सामने आई थी. मामले में कई बड़े नेताओं और अधिकारियों के नाम का खुलासा हुआ था. जिसमें कि कई बड़े अधिकारियों को भी आरोपी बनाया गया था.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।