बीजापुर नक्सली मुठभेड़ : जवानों की शहादत पर उठाया था सवाल, असम की लेखिका पर देशद्रोह का मामला दर्ज…

पुलिस ने किया गिरफ्तार

गुवाहाटी. असम में 48 साल की एक महिला लेखिका शिखा शर्मा के खिलाफ फेसबुक पर पोस्ट लिखने के बाद देशद्रोह का केस दर्ज हुआ है. ये पूरा मामला मंगलवार का है, जिसके बाद गुवाहाटी से लेखिका को गिरफ्तार किया गया है. लेखिका शिखा शर्मा पर आरोप है कि उन्होंने छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सली हमले में शहीद जवानों को लेकर फेसबुक पर कथित रूप से आपत्तिजनक पोस्ट किया और जवानों की शहादत पर सवाल उठाया है.

<
Close Button

इस पोस्ट के बाद पुलिस ने उन्हें मंगलवार शाम को गिरफ्तार कर लिया है. शनिवार को बीजापुर में नक्सलियों ने घात लगाकर हमला किया था. जिसमे सीआरपीएफ के कोबरा कमांडो सहित 22 जवान शहीद हो गए थे. जिसे लेकर लेखिका शिखा शर्मा ने फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट लिखा था. अब उन पर कई धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है. शिखा के खिलाफ आईपीसी की धारा 124ए (राजद्रोह) के आधार पर अपराध पंजीबद्ध किया गया और उन्हें गिरफ्तार किया गया है.

गुवाहाटी के पुलिस कमिश्नर मुन्ना प्रसाद का कहना है कि ‘शर्मा को 8 अप्रेल को कोर्ट में पेश किया जाएगा.’ लेखिका सोशल मीडिया पर काफी मुखर हैं. उन्होंने सोमवार को फेसबुक पर कथित रूप से लिखा था, ‘कर्तव्य का पालन करते हुए जान गंवाने वाले वेतनभोगी पेशेवरों को शहीद नहीं कहा जा सकता. इस तर्क के आधार पर विद्युत विभाग में काम करने वाले कर्मचारी की बिजली के संपर्क में आने से यदि मौत हो जाती है, तो उसे भी शहीद का दर्जा देना चाहिए. मीडिया को लोगों की भावनाओं से नहीं खेलना चाहिए. इस पोस्ट के बाद उनके खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज किया गया है.

 

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।