जेल में बंद भाइयों ने किया वीडियो कॉलिंग, रक्षाबंधन पर भाई को देख बहनों की आंखें हुई नम…

शैलेंद्र पाठक, बिलासपुर। केंद्रीय जेल में कैद भाइयों को इस बार बहनें जेल परिसर में राखी नहीं बांध पाई. कोरोना संक्रमण के कारण इस बार जेल में मुलाकात की व्यवस्था नहीं की गई थी. लेकिन जेल प्रशासन ने कैदियों को वीडियो कॉलिंग के माध्यम से रक्षा बंधन का पर्व मनवाया, जिनके पास एंड्रायड मोबाइल है, उन बहनों ने मोबाइल के माध्यम से कैदी भाई को देख राखी बांधी और मिठाई भी वीडियो कॉलिंग के माध्यम से खिलाई. बता दें कि केंद्रीय जेल में कोरोना पॉजिटिव कैदी की मौत के बाद मामला संवेदनशील हो गया है. इसके अलावा दस से ज्यादा प्रहरी कोरोना पॉजिटिव पाये गए है, इसलिए एहतियात के तौर पर मिलने जुलने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है.

Close Button

जेल अधीक्षक एसके मिश्रा के मुताबिक, कोरोना के कारण कैदियों से मिलने जुलने पर पाबंदी है. सलेक्टेड कैदी को राखी बंधवाई गई है. जिन कैदियों के परिजनों के पास एंड्रॉयड फोन था, उनको ही ये व्यवस्था मिल पाई.

बिलासपुर विधायक शैलेष पांडेय ने प्रजापिता ब्रह्माकुमारी आश्रम में बहन मंजू दीदी से राखी बंधवाई और आशीर्वाद लिया. हमारी ब्रह्माकुमारी बहनों के प्रयासों द्वारा बिलासपुर का वातावरण सदैव आध्यात्मिक बना रहता है उनकी संस्था और सभी बहनों भाइयों के कल्याण और प्रगति के लिए ईश्वर से प्रार्थना करता हूं और उन्होंने मुझे राखी बांधी, इसके लिए उनका आभारी हूं. वहीं विधायक शैलेष पांडेय ने थाने पहुंचकर ट्रैफिक पुलिस से बंधवाई राखी.

loading...

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।