मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंत्रियों के दल के साथ 14 को जाएंगे दिल्ली, राष्ट्रपति और केन्द्रीय कृषि मंत्री से करेंगे मुलाकात

केंद्रीय पूल में छत्तीसगढ़ से चावल उपार्जन की अनुमति दिलाने का करेंगे आग्रह

रायपुर. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 14 नवंबर को अपने मंत्रि मंडल के सहयोगियों के साथ नई दिल्ली जाएंगे और वहां महामहिम राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात कर केन्द्र सरकार द्वारा पूर्व वर्ष की भांति इस वर्ष भी केन्द्रीय पूल के लिए छत्तीसगढ़ से चावल का उपार्जन कराने का अनुरोध करेंगे. मुख्यमंत्री और मंत्रियों का दल शाम को केन्द्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर से भी मुलाकात कर राज्य के किसानों के हित में सेन्ट्रल पूल में चावल खरीदी का आग्रह करेंगे.

मुख्यमंत्री के साथ प्रदेश के स्वास्थ्य एवं पंचायत मंत्री  टी.एस. सिंहदेव, गृह एवं लोक निर्माण मंत्री ताम्रध्वज साहू, कृषि एवं जल संसाधन मंत्री रविन्द्र चौबे, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री अमरजीत भगत, नगरीय प्रशासन एवं श्रम मंत्री डाॅ. शिवकुमार डहरिया तथा वन, पर्यावरण एवं आवास मंत्री  मोहम्मद अकबर नई दिल्ली जाएंगे.

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री बघेल छत्तीसगढ़ के किसानों के हित में सेंट्रल पूल में 32 लाख मीटरिक टन चावल की खरीदी के संबंध में राष्ट्रपति को अवगत कराएंगे. उल्लेखनीय है कि केन्द्र सरकार द्वारा वर्ष 2014 में निर्णय लिया गया है जिसके अनुसार जो राज्य सरकार किसानों को समर्थन मूल्य पर धान खरीदी पर बोनस देगी उनसे सेन्ट्रल पूल में चावल नहीं लिया जाएगा. लेकिन इसके बावजूद छत्तीसगढ़ में पूर्व में दो वर्षों में इस प्रावधान को शिथिल कर सेन्ट्रल पूल में छत्तीसगढ़ से चावल लिया गया. इसे देखते हुए छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा वर्ष 2019-20 में सेन्ट्रल पूल में प्रधानमंत्री से प्रावधान को शिथिल कर सेन्ट्रल पूल में छत्तीसगढ़ से 32 लाख मीट्रिक टन चावल लेने का आग्रह किया गया है, क्योंकि इस वर्ष धान की ज्यादा आवक की संभावना है.

इस संबंध में प्रधानमंत्री और केन्द्रीय खाद्य मंत्री को पूर्व में पत्र भी लिखा गया है, लेकिन वहां से असहमति का पत्र भेजा गया है, जिसमें लिखा है कि 2500 रूपए प्रति क्विंटल में धान खरीदी से बाजार अव्यवस्थित हो जाएगा. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा है कि किसानों के हित में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा इस वर्ष भी किसानों से 2500 रूपए प्रति क्विंटल पर धान की खरीदी करेगी. इस वर्ष लगभग 85 लाख मीट्रिक टन धान खरीदी होने का अनुमान है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्ष 2018-19 में हमने किसानों से 2500 रूपए प्रति क्विंटल पर धान खरीद कर किसानों से किया गया वायदा पूरा किया। इस वर्ष भी 2500 रूपए प्रति क्विंटल पर धान की खरीदी करेंगे. उन्होंने किसानों के हित में केन्द्र सरकार को प्रावधान को शिथिल करते हुए इस वर्ष सेन्ट्रल पूल में छत्तीसगढ़ से 32 लाख मीट्रिक टन चावल का उपार्जन करने की अनुमति मांगी है.

Related Articles

Back to top button
survey lalluram
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।