विजेंद्र कटरे के खिलाफ फिर खुला मोर्चा, शासकीय बैठक में उनकी उपस्थित पर जताई आपत्ति, एफआईआर दर्ज करने की मांग

प्रदेश कांग्रेस कमेटी चिकित्सा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष डॉ. राकेश गुप्ता ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

रायपुर। आयुष्मान भारत योजना और मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना से जुड़े विजेंद्र कटरे को लेकर विवाद बरकरार है. कटरे के अनधिकृत रूप से शासकीय मीटिंग में उपस्थित रहने की जानकारी देते हुए छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी चिकित्सा प्रकोष्ठ अध्यक्ष डॉ राकेश गुप्ता जांच के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखा है.

डॉ. गुप्ता ने पत्र में लिखा कि स्टेट नोडल एजेंसी आयुष्मान भारत योजना व मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी के तौर पर विजेंद्र कटरे की संविदा अवधि 30 सितंबर से समाप्त हो जाने के बाद भी कार्य कर रहे हैं. इस संबंध में स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की मीटिंग में 30 सितंबर तक उनके पद पर कार्य करने की बात कही थी, लेकिन इस समयावधि के बाद भी वह अलग-अलग शासकीय मीटिंग में अनधिकृत और गैरकानूनी रूप से उपस्थित रहते हैं.

डॉ. गुप्ता ने साक्ष्यों के साथ बताया कि शासन द्वारा 30 सितंबर के बाद उनकी संविदा सेवा अवधि नहीं बढ़ाए जाने के बाद भी 22 अक्टूबर स्टेट नोडल एजेंसी द्वारा बुलाई गई प्रदेश स्तरीय मीटिंग में वे मौजूद रहे. इस पर पारदर्शी जांच कर विजेंद्र कटरे के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने की कार्रवाई करनी चाहिए.

 

Related Articles

Back to top button
survey lalluram
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।