दिल्ली CM केजरीवाल ने PM मोदी से पूछा, ‘भारत इंटरनेशनल फ्लाइट्स पर प्रतिबंध क्यों नहीं लगा रहा ?’

नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोविड-19 के एक नए वैरिएंट ओमिक्रॉन के मद्देनजर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने का अनुरोध किया है, क्योंकि उनमें से ज्यादातर फ्लाइट्स राजधानी दिल्ली में उतरती हैं. केजरीवाल ने एक ट्वीट में कहा, “कई देशों ने ओमिक्रॉन प्रभावित देशों से आने वाली उड़ानें बंद कर दी हैं, फिर हम देरी क्यों कर रहे हैं? पहली वेव में भी हमने विदेशी उड़ानें रोकने में देरी कर दी थी. अधिकतर विदेशी उड़ानें दिल्ली में आती हैं, दिल्ली सबसे ज्यादा प्रभावित होती है. पीएम साहिब कृपया उड़ानें तुरंत बंद करें.”

पंजाब: शिक्षकों के धरने में पंजाब पहुंचे दिल्ली CM केजरीवाल, मोहाली में बोले- ‘अगर काम न करूं, तो लात मारकर भगा देना’

AAP के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने एक मीडिया रिपोर्ट के हवाले से कहा था कि दक्षिण अफ्रीका से लौटा एक व्यक्ति चंडीगढ़ में जांच में कोरोना संक्रमित मिला है. उसके परिवार के सदस्यों में से एक और घरेलू सहायिका भी इस बीमारी से संक्रमित है. पॉजिटिव मामलों के नमूने पूरे-जीनोम अनुक्रमण के लिए एनसीडीसी, दिल्ली को कोरोना वायरस का पता लगाने के लिए भेजे जाएंगे. दक्षिण अफ्रीका में ओमिक्रॉन के पाए जाने की खबर के साथ भारत में वैज्ञानिकों और स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने कहा है कि संक्रमण की नई लहरों की आशंका है और जब तक हम जल्दी और कुशलता से काम नहीं करते हैं, देश में संभवत: दोहराई जाने वाली लहरें दिखाई देंगी.

शीतकालीन सत्र से पहले सरकार ने बुलाई सर्वदलीय बैठक, AAP ने किया किनारा

रविवार को सीएम अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर अनुरोध किया कि वे उन क्षेत्रों से अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें बंद करें, जहां इस दौरान कोविड -19 मामलों में बढ़ोतरी देखी जा रही है. इस बीच दिल्ली सरकार द्वारा संचालित लोक नायक जय प्रकाश अस्पताल को नए कोविड -19 वैरिएंट ओमिक्रॉन के लिए पॉजिटिव रोगियों के इलाज के लिए नामित किया गया है. अस्पताल को ऐसे मरीजों को आइसोलेट करने और उनका इलाज करने के लिए वार्ड निर्धारित करने को कहा गया है. स्वास्थ्य विभाग ने अस्पताल को निर्देश दिया है कि वह किसी भी आधार पर नए वैरिएंट से संक्रमित मरीजों को भर्ती करने से इनकार ना करें.

 

">

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!