पाकिस्तान में मंदिरों में तोड़फोड़ का छत्तीसगढ़ में भी विरोध, सिंधी समाज ने इसे अत्याचार बताकर किया प्रदर्शन

सत्यपाल सिंह,रायपुर। पाकिस्तान में मंदिरों में की जा रही तोड़फोड़ को लेकर अब छत्तीसगढ़ में भी विरोध की गूंज सुनाई देने लगी है. सिंधी समाज ने ने बूढ़ा तालाब धरना स्थल पर विशाल धरना प्रदर्शन कर विरोध जताया. सिंधी समाज के प्रतिनिधिमंडल ने राज्यपाल को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री के नाम ज्ञापन सौपेंगे. इसके साथ ही मुख्यमंत्री भूपेश बघेल से भी मुलाकात करेंगे.

बीजेपी नेता श्रीचंद सुनरानी ने बताया कि पाकिस्तान में हिंदुओं के मंदिरों को तोड़ा जा रहा है. सिंध समाज के लोगों को अपमानित प्रताड़ित ही नहीं, बल्कि हमारे बहू बेटियों के साथ छेड़खानी की जा रही है.  इसका विरोध करते हुए आज ये पाकिस्तान के लिए चेतावनी है. पाकिस्तान में हिंदुओं की सुरक्षा और उनके भारत वापसी के लिए भारत सरकार प्रधानमंत्री को आवेदन दिया जाएगा, ताकि पाकिस्तान के हिंदू सुरक्षित भारत आ सके और उन्हें भारतीय नागरिकता मिल सके.

सिंधी समाज के अध्यक्ष ने बताया कि हिंदुओं पर पाकिस्तानियों का अत्याचार दिन प्रति दिन बढ़ती जा रही है. समाज के बहू बेटियों के साथ बदसलूकी और हिंदुओं को अपमानित किया जा रहा है. मंदिरों धार्मिक स्थलों को तोड़ा जा रहा है. इसके विरोध में आज धरना प्रदर्शन किया गया है. धरना प्रदर्शन के बाद चार बजे आज धरना स्थल से राजभवन तक रैली निकाली जाएगी. वहीं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा जाएगा. रैली के बाद सिंधी समाज के कुछ प्रमुख लोग सीएम भूपेश बघेल से मिलकर ज्ञापन सौंपेंगे.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।