नौबत ऐसी आई की स्कूल में डीईओ को करानी पड़ी प्रार्थना, मामला जानकर आप हो जाएंगे हैरान

रोहित कश्यप, मुंगेली. जिला शिक्षा अधिकारी ने मंगलवार को जिले के स्कूलों का औचक निरीक्षण किया. इस दौरान एक स्कूल के सभी शिक्षक गायब मिले, प्रार्थना का समय हो गया था लेकिन स्कूल नहीं पहुंचे थे. जिस पर शिक्षा अधिकारी ने नाराजगी जाहिर करते हुए सभी लापरवाह शिक्षकों एवं कर्मचारियों को नोटिस थमाया.

Close Button

दरअसल, डीईओ जीपी भारद्वाज ने मुंगेली विकासखंड के शासकीय उच्चतर माध्यमिक चकरभाठा एवं भालापुर विद्यालय का आकस्मिक निरीक्षण किया. इस दौरान उच्चतर माध्यमिक विद्यालय चकरभांठा में प्रार्थना के समय कोई शिक्षक उपस्थित नहीं थे. सिर्फ एक भृत्य ही वहां मौजूद था.

स्कूल में प्रार्थना निरीक्षण के लिए पहुंचे जिला शिक्षा अधिकारी को ही करवाना पड़ा. इस दौरान स्कूल के प्राचार्य किशन राम लहरे समेत दर्जनभर शिक्षक एसएल पंकज, गणपत दास धृतलहरे, अमरचंद बर्मन, राजेंद्र सिंह क्षत्री, आशीष ठाकुर, रवि कुमार देवांगन, फ़णेन्द्र राय, उर्मिला देवांगन, विकास नाथ जोगी, विनय कुमार गुप्ता, कपिल कुमार व्यायाम शिक्षक,  जगमोहनदास सहायक ग्रेड 2, पीडी धृतलहरे ग्रंथपाल अनुपस्थित पाए गए.

अनुपस्थित शिक्षकों ने किसी प्रकार का अवकाश संबंधी आवेदन या सूचना नही दिया था. यही वजह है प्राचार्य एवं दर्जनभर शिक्षकों सहित कर्मचारियों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है. इसी तरह शासकीय उच्चतर माध्यमिक भालापुर में निरीक्षण के दौरान व्याख्याता शिक्षक जीआर खांडे,  केडी जांगड़े, वाय नायक, बीआर सोनवानी सहायक शिक्षक विज्ञान, एमपी सिंह सहायक ग्रेड 2 अनुपस्थित पाए गए.

डीईओ ने बताया कि निरीक्षण के दौरान दोनों विद्यालयों में बच्चों का स्तर अत्यंत कमजोर एवं अनुशासन की कमी पाई गई. यही वजह है कि सभी शिक्षकों को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है.

Related Articles

Back to top button
Close
Close
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।