Contact Information

Four Corners Multimedia Private Limited Mossnet 40, Sector 1, Shankar Nagar, Raipur, Chhattisgarh - 492007

” सभी व्यक्ति निरोग रहे इसके लिये डॉक्टर्स हर परिस्थिति में अपना फर्ज निभाते हुए मरीजों का बेहतर इलाज करते हैं. इलाज और सेवा से जब मरीज ठीक होते हैं, तो मन में आत्मिक संतुष्टि मिलती है. इस संतुष्टि को शब्दों में बयान नहीं किया जा सकता.” इस उद्देश्य के साथ मानव सेवा को ही अपने जीवन का परम लक्ष्य मानकर चल रहे नारायणपुर में पदस्थ डॉ. केशव साहू अपनी सेवा दे रहे हैं.

 डॉ.केशव ने पुणे में अपनी एमबीबीएस की डिग्री पूरी करने के बाद 2017 से 2019 तक कोंडागांव के मर्दापाल में अपनी सेवाएं दी. दूरस्थ अंचलो में उनके क्षेत्र में बेहतरीन एवं सराहनीय कार्य के लिए हेल्थ आइकॉन अवार्ड्स 2019 से उन्हें मुख्यमंत्री के द्वारा सम्मानित किया गया. वर्तमान में नारायणपुर में सेवा दे रहे है.

 डॉ. केशव ने अपने कार्यकाल में अबतक 3000 से अधिक महिलाओं का सफल प्रसव किया है. कोविड महामारी के दौरान कोरोना पॉजिटिव होते हुए भी कोविड सेंटर में जिले के एक मात्र चिकित्सक के रूप में संक्रमित माताओं का प्रसव कराया. डॉ.केशव जिला कुष्ठ नोडल अधिकारी रहते हुए बीते 5 सालों में नारायणपुर में सर्वाधिक कुष्ट मरीजों की पहचान कर उनका इलाज कर रहे है.

डॉ केशव  एमबीबीएस की पढ़ाई के दौरान भी आदिवासी बहुल क्षेत्र मेलघाट में अपनी सेवाएं देते रहे. स्वास्थ्य सेवा की जरूरत प्रमुख रूप से ग्रामीण क्षेत्रों में होने के कारण कोंडागांव जिले में कार्य करना प्रारंभ किया. यह जिला नवीन था और यहां पर स्वास्थ्य सेवा देना आसान नही था इसलिये उन्होंने  जिले के संवेदनशील कहे जाने वाले ग्राम मर्दापाल में अपनी सेवाएं दी. सबसे पहले मर्दापाल स्वास्थ्य केन्द्र की सुविधाओं में विस्तार किया. इस दौरान पहली बार जिले को प्रथम प्रयास में ही राष्ट्रीय स्तर पर लक्ष्य सर्टिफ़िकेट की प्राप्ति हुई.

उन्होंने बताया उन्हें प्रदेश प्रशासन के द्वारा उच्च जोखिम वाली गर्भवती माताओं के जटिल उपचार हेतु क्रिस्चियन मेडिकल कॉलेज से वेल्लोर प्रशिक्षण हेतु चयन किया गया था. प्रशिक्षण प्राप्ति के बाद से अबतक 900 से अधिक उच्च जोखिम वाले गर्भवती महिलाओं का प्रसव करवा चुके हैं. साथ ही 3000 से अधिक महिलाओं का संस्थागत प्रसव स्वयं किया है. उन्होंने बताया, कई बार संवेदनशील और दुर्गम्य इलाकों में जहां स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध नही है उन क्षेत्रों में जाकर गृह प्रसव भी करवाया है. विगत वर्ष मातृ शिशु स्वास्थ्य के क्षेत्र में बेहतर कार्य करने हेतु नारायणपुर जिला राष्ट्रीय स्तर पर पहली बार ग्रीन जोन की श्रेणी में शामिल हुआ. उनकी कई उपलब्धियों में जिला प्रशासन द्वारा 2021 में उत्कृष्ट चिकित्सक के रूप में सम्मानित किया जाना, 2021 में स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन से उत्कृष्ट कार्य हेतु कोविड वारियर का पुरस्कार, और पदस्थापना उपरांत कार्य क्षेत्र में प्रसव कक्ष को राष्ट्रीय स्तर पर लक्ष्य प्रमाणित पुरस्कार शामिल है.