GAMING : ‘एज ऑफ एंपायर IV’ में दिल्ली सल्तनत के आते ही शुरू हुआ विवाद, जानिए क्या है वजह…

नई दिल्ली। कंप्यूटर गेम में दिलचस्पी रखने वालों के लिए बड़ी खबर है कि माइक्रोसॉफ्ट के स्ट्रेटजी गेम ‘एज ऑफ एंपायर IV’ में दुनिया की अन्य मध्यकालीन सभ्यताओं के साथ भारत की दिल्ली सल्तनत को स्थान दिया गया है. लेकिन इसके साथ ही विवाद भी खड़ा हो गया है. लोग दिल्ली सल्तनत के विवादित इतिहास को देखते हुए इसे शामिल करने पर माइक्रोसॉफ्ट से सवाल कर रहे हैं.

दिल्ली सल्तनत के 320 साल का इतिहास काफी विवादित रहा है. दिल्ली सल्तनत विदेशी मुस्लिम आक्रांताओं से भरा हुआ है, जिसने अपने शासनकाल के दौरान हिन्दुओं के मंदिर, विश्वविद्यालय, पुस्तकालयों और स्मारकों को तोड़ने-फोड़ने में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ रखी थी.

मध्यकाल के दौरान अन्य साम्राज्यों के मौजूदगी के बावजूद ‘एज ऑफ एंपायर IV’ में आखिर दिल्ली सल्तनत को ही क्यों शामिल किया गया, इस सवाल के जवाब में माइक्रोसॉफ्ट के प्रतिनिधि ने बताया कि दिल्ली सल्तनत का चुनाव इसलिए किया गया क्योंकि दक्षिण एशियाई सभ्यता से जुड़े होने के साथ इसका सम्मोहक इतिहास है, जो ‘एज ऑफ एंपायर IV’ से संबंध कालखंड से जुड़ा हुआ है.

प्रवक्ता ने बताया कि दिल्ली सल्तनत गेम में शामिल अन्य सभ्यताओं की तरह ही आक्रांताओं का ही है. गेम के समयकाल के मुताबिक आक्राताएं भारतीय उपमहाद्वीप के बड़े हिस्से में फैले हुए हैं.

Related Articles

Back to top button
 
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।