शिक्षाकर्मियों की गुप्त रणनीति, कल राजधानी में गदर मचाने की तैयारी

 

रायपुर। शिक्षाकर्मियों की आज प्रशासन भले संविलियन महारैली निकाले से रोक दिया और संघ के नेताओं से हजारों शिक्षाकर्मियों को गिरफ्तार कर लिया हो, लेकिन शिक्षाकर्मियों ने एक गुप्त रणनीति बनाई है. इस रणनीति के तहत कल शिक्षाकर्मियों ने राजधानी में गदर मचाने की तैयारी की है. शिक्षाकर्मी संघ के कुछ संचालक सदस्य अभी पुलिस  गिरफ्त से बाहर है.  उन्होंने गोपनीय बैठक कर कल की तैयारी कर ली है.

Advertisement
Patakha ban Ad

संचालक सदस्यों ने लाखे नगर ईदगाहभाटा मैदान में मौजूद शिक्षाकर्मियों तक ये खबर भी भिजवा दी है. वहीं प्रदेश भर में जहां-जहां शिक्षाकर्मियों को रोका गया वहां भी संदेश भेजे जा रहे हैं. संघ के नेताओं ने आज से कहीं ज्यादा कल शक्ति प्रदर्शन करने के लिए तमाम जगहों पर खबर भेद दी है. संघ की गुप्त रणनीति का खुलासा नेताओं ने नहीं किया है, लेकिन लल्लूराम डॉट कॉम को मिली जानकारी के मुताबिक कल आंदोलन और ज्यादा उग्र हो सकता है.

हालांकि कल ही पंचायत मंत्री शिक्षाकर्मी संघ के नेताओं के साथ बैठक कर सकते हैं. लेकिन संघ के नेता बैठक का बहिष्कार भी कर सकते हैं. क्योंकि शिक्षाकर्मी संघ के संचालक सदस्य अपने नेताओं की गिरफ्तारी को लेकर बेहद आक्रोशित है. लिहाजा उन्होंने कल प्रशासन और पुलिस को छकाने से लेकर गदर मचाने की ऐसी रणनीति तैयार की जिसकी फिलहाल कोई जानकारी खुफिया तंत्र को भी नहीं है.

ADVERTISEMENT
cg-samvad-small Ad

शिक्षाकर्मी संघ के संचालक सदस्य अभी पुलिस गिरफ्तार से बाहर है. मीडिया में भी वे अब तक नहीं है. लेकिन अपने साथियों को दी जानकारी में उन्होंने साफ तौर राजधानी नहीं छोड़कर जाने को कहा है. साथ यह भी कहा कि लाखे नगर मैदान में ही वे डटे रहे हैं. माना ये जा रहा है कि आज जिस रैली को प्रशासन नहीं होने दी, कल वहीं रैली किसी भी वक्त शिक्षाकर्मी निकाल सकते हैं. तैयारी ये भी है कि आज आधी रात बाद हजारों की संख्या में शिक्षाकर्मी राजधानी की ओर कुछ करने वाले हैं.

Advertisement
धन्यवाद, लल्लूराम डॉट कॉम के साथ सोशल मीडिया में भी जुड़ें। फेसबुक पर लाइक करें, ट्विटर पर फॉलो करें एवं हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें।