11 अगस्त का राशिफल : बहनों को किस रंग की राखी बांधनी चाहिए, क्या मंत्र पढ़ना चाहिए, जानिए राशि के अनुसार …

रायपुर. आज का पंचाग. दिनांक 11.08.2022 शुभ संवत 2079 शक 1944 सूर्य दक्षिणायन का श्रावण मास शुक्ल पक्ष चतुर्दशी  तिथि दिन को 10 बजकर 38 मिनट तक दिन गुरुवार उत्तराषाढा नक्षत्र दिन को 06 बजकर 53 मिनट तक आज चंद्रमा मकर राशि में आज का राहुकाल दोपहर को 01 बजकर 46 मिनट से 03 बजकर 23 मिनट तक होगा.

राशि के अनुसार बहनों को किस रंग की डोरी भाई को बांधनी चाहिए, मंत्र क्या पढना चाहिए और कौन-कौन से ऊपाय करने चाहिए…

1. मेष- बहनें भगवान गणेश जी को दूब तथा राखी अर्पित करें, उसके उपरांत भाई को हरे रंग की सूत से बनी राखी बंधे और मन्त्र पढ़ें ” ॐ अन्गिर्साय विधमहे दिव्यदेहाय धीमहि, जीव: प्रचोदयात” इसके बाद कलाकंद खिलाएं.

2. वृष- बहनें शिव जी को जल से अभिषेक करें और राखी अर्पित करें तथा अपने दोनों के रिश्ते के मजबूती की प्रार्थना करें. ॐ भग्भवाय विधमहे मृत्युरुपाय धीमहि, तन्नो सौरी: प्रचोदयात मन्त्र करें और काजू की मिठाई खिलाएं.

3. मिथुन- बहनें सूर्य देव को जल चढ़ाएं, देवी को सिन्दूर और राखी अर्पित करें ताकि भाई की दुर्घटना से रक्षा हो सके. उसके उपरांत ॐ भग्भवाय विधमहे मृत्युरुपाय धीमहि, तन्नो सौरी: प्रचोदयात मन्त्र का जाप करते हुए रुद्राक्ष की राखी भाई को बंधकर चाकलेट के पेडे खिलाएं.

4. कर्क- भगवान गणेश को बेल पत्र और राखी अर्पित करें, इससे आपके भाई के कैरियर की परेशानी दूर होगी और रिश्ते मधुर होंगे. ॐ अन्गिर्साय विधमहे दिव्यदेहाय धीमहि, जीव: प्रचोदयात जाप करें और रसगुल्ले खिलाएं और मोती की राखी बांधे.

5. सिंह- शिव जी को चन्दन अर्पित करें इसके बाद भाई को राखी बांधें  इससे आपके भाई का  स्वास्थ्य उत्तम रहेगा.  ॐ अंगारकाय विधमहे शक्तिहस्ताय धीमहि, तन्नो भोम: प्रचोदयात मन्त्र का जप करते हुए लाल रंग की राखी बंधे और मोतीचूर के लड्डू खिलाएं.

6. कन्या- हनुमान जी लाल फूल और रक्षासूत्र अर्पित करें, इससे आपके भाई को मनचाही सफलता मिलेगी.  ॐ भृगुसुताय विधमहे दिव्यदेहाय, तन्नो शुक्र: प्रचोदयात मन्त्र पढ़ते हुए रस वाली मिठाई खिलाएं एवं पंचरंगी डोरे वाली राखी बांधे.

7. तुला- भगवान कृष्ण को माखन मिसरी का भोग लगाएं, फिर रक्षाबंधन अर्पित करें, इससे आपके भाई का पारिवारिक और वैवाहिक जीवन सुखी होगा. ॐ सौम्यरुपाय विधमहे वानेशाय च धीमहि, तन्नो सौम्य प्रचोदयात मन्त्र का जाप करते हुए घर में निर्मित मिठाई खिलाएं एवं रेशमी हल्के पीले डोरे वाली राखी बांधे.

8. वृश्चिक- पीपल के वृक्ष में जल डालें और वहीं दीपक जलाएं, डाल पर रक्षासूत्र बांधें. इससे आपके भाई की स्वास्थ्य सम्बन्धी समस्या दूर होगी. ” ॐ अमृतंग अन्गाये विधमहे कलारुपाय धीमहि,तन्नो सोम प्रचोदयात ” मन्त्र पढ़ें और रसगुल्ले खिलाएं एवं पीली व सफेद डोरी से बनी राखी बांधे.

9. धनु- शिव जी को इत्र और जल अर्पित करें, इसके बाद राखी अर्पित कर दें. इससे आपके भाई की दुर्घटनाओं से रक्षा होगी. ॐ आदित्याय च विधमहे प्रभाकराय धीमहि, तन्नो सूर्य :प्रचोदयात मन्त्र का जाप करते हुए रसगुल्ले खिलाएं एवं पीली व सफेद डोरी से बनी राखी बांधे.

10. मकर- भगवान कृष्ण को हल्दी का तिलक लगाकर राखी अर्पित करें, इससे आपके भाई को आर्थिक कष्ट कभी नहीं होंगे. ॐ सौम्यरुपाय विधमहे वानेशाय च धीमहि, तन्नो सौम्य प्रचोदयात मन्त्र पढ़ते हुए राजभोग के साथ पीले-नीले जरी की राखी बांधे.

11. कुम्भ- हनुमान जी को लाल फूल और रक्षासूत्र अर्पित करें, इससे आपके भाई का स्वास्थ्य और रोजगार उत्तम होगा इसके लिए ॐ भृगुसुताय विधमहे दिव्यदेहाय, तन्नो शुक्र: प्रचोदयात जाप करें और सोहन हलवा और सफेद रेशमी डोरी वाली राखी बांधे.

12. मीन- शिव जी को दही और जल अर्पित करें, उनको राखी अर्पित करें. इससे आपके और आपके भाई के रिश्ते मजबूत होंगे. ॐ अंगारकाय विधमहे शक्तिहस्ताय धीमहि, तन्नो भोम: प्रचोदयात मन्त्र का जाप करते हुए बालूशाही खिलाएं एवं मिलेजुले धागे वाली राखी बांधे.

Related Articles

Back to top button